मतगणना को प्रशासन की तैयारी पूरी, मतगणना के लिए अधिकारियों द्वारा कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया है। जानिए मेरठ में 10 मार्च को मतगणना के लिए प्रशासन की कैसी व्यवस्था रहेगी। दस मार्च को सात विधानसभा क्षेत्रों की दो स्थानों पर होने वाली मतगणना के लिए आज कर्मचारियों को एसडी सदर इंटर कॉलेज में प्रशिक्षण दिया गया। इसके लिए तीन मार्च को राष्ट्रीय सूचना केंद्र कलक्ट्रेट से कर्मचारियों की ड्यूटी तय की जा चुकी है। सात विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रत्येक विधानसभा में 14-14 टेबल लगाईं जाएंगी। इसी को ध्यान में रखते हुए मतगणना का प्रशिक्षण कराया जाएगा। एक टेबल पर चार कर्मचारी मौजूद रहेंगे। सरधना, हस्तिनापुर, सिवालखास की मतगणना मोदीपुरम स्थित कृषि विवि और कैंट, किठौर, शहर और दक्षिण की मतगणना लोहियानगर मंडी में सुबह आठ बजे से शुरू होगी। विकास भवन सभागार में पोस्टल बैलेट की गिनती के लिए कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। सुबह आठ बजे से पोस्टल बैलेट की गिनती की जाएगी। अलग-अलग टेबल बनाई जाएंगी। जो पोस्टल बैलेट इलेक्ट्रॉनिक रूप में भेजे गए हैं, कर्मचारियों के पोस्टल बैलेट, दिव्यांग, वृद्ध के घर-घर जाकर किए गए मतदान के बैलेट पेपर के लिए अलग-अलग टेबल बनाईं गईं हैं। जिससे मतगणना में पारदर्शिता बनी रहे।

दो अधिकारी देते रहेंगे राउंडवार जानकारी
जिला निर्वाचन अधिकारी के. बालाजी ने कहा कि दोनों मतगणना स्थलों पर मीडिया सेंटर बनाया जाएगा। उसी स्थान पर राउंडवार मतगणना के लिए दो अधिकारियों को नियुक्त किया गया है। जिससे समय पर जानकारी मीडिया के पास पहुंच सके। इसके लिए सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि विवि में समाज कल्याण अधिकारी मौहम्मद मुश्ताक अहमद और लोहियानगर मंडी में सहायक अभियंता धीरेंद्र गर्ग को नियुक्त किया गया है। मंडी स्थल पर 10 मार्च की होने वाली मतगणना की तैयारियां जोरशोर से की जा रही है। मतगणना स्थल पर बेरिकेडिंग का कार्य हुआ। जिलाधिकारी ने अन्य प्रशासन व पुलिस के अधिकािरयों के साथ  निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने शामली मंडी में विधानसभा वार होने वाली मतगणना स्थल पर आवश्यक सभी व्यवस्था समय से दुरुस्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। मतगणना स्थल पर जाने के लिए पासधारकों को मैटल डिटेक्टर से गुजरना होगा।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.