मतगणना स्थल में वैक्सीन वालों को ही प्रवेश, विधानसभा चुनाव की मतगणना की तैयारियों और नियमों के पालन को लेकर प्रदेश के अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी आरके पांडेय ने सभी विधानसभा क्षेत्रों के निर्वाचन अधिकारियों और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की। उन्होंने निर्देश दिया कि कोरोना संक्रमण के बचाव के उपायों का सख्ती से पालन कराया जाएगा। मतगणना स्थल के भीतर प्रवेश केवल उन्हीं लोगों को मिलेगा, जिन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज ले रखी हों। वैक्सीन न लेने वाले को 48 घंटे पूर्व की आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लेकर आनी होगी। उन्होंने बताया कि सुबह 8 बजे से पोस्टल बैलेट और ईटीपीबीएस की गणना का कार्य शुरू कराया जाएगा। सुबह 8.30 बजे से ईवीएम से मतगणना का कार्य शुरू होगा। जब तक पोस्टल बैलेट की गणना पूरी नहीं होगी तब तक ईवीएम के अंतिम चरण की गणना को पूरा नहीं किया जाएगा। बैठक में जिलाधिकारी के. बालाजी, सीडीओ शशांक चौधरी, एडीएम प्रशासन सत्यप्रकाश सिंह, एडीएम वित्त पंकज वर्मा समेत सभी विधानसभा क्षेत्रों के निर्वाचन अधिकारी मौजूद रहे।

तीन चरण में होगी एक ईटीपीबीएस की गिनती

रविवार दोपहर तीन बजे भारत निर्वाचन आयोग की टीम ने सभी विधासभा क्षेत्रों के निर्वाचन अधिकारियों को पोस्टल बैलेट और सविर्लस वोटरों द्वारा भेजे गए ईटीबीपीएस (इलेक्ट्रानिकली ट्रांसमिटिड पोस्टल बैलेट सिस्टम) की गणना का प्रशिक्षण दिया। बताया कि ईटीपीबीएस तीन फार्मों के माध्यम से प्राप्त होता है। तीनों को अलग-अलग स्कैन किया जाएगा। अंत में बैलेट पेपर स्कैन होगा। उससे पहले ही मान्य और अमान्य मतपत्रों की छंटनी कर ली जाएगी।

प्रत्याशी भी जुटे तैयारियों में

सातवें चरण का मतदान निपटने के बाद अब तमाम दलों के प्रत्याशियों ने भी मतगणना का हिस्सा बनने के लिए कमर कर ली है। लेकिन प्रशासन के वैक्सीनेशन वाले नियम के बाद सभी प्रत्याशी अब नए सिरे से तैयारियों में लगे हैं। उनका कहना है कि जिनकी डयूटी मतगणना कार्य के लिए लगायी जानी है उन्होंने वैक्सीनेशन कराया है या नहीं यह भी सुनिश्चित करना है। ऐसे लोग जो मतगणना में शामिल होंगे और अभी तक वैक्सीनेशन नहीं कराया है, उनको वैक्सीन दिलायी जा  रही है।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.