शहीद के घर पहुंचे जयंत, रालोद के मुखिया जयंत चौधरी शहीद धर्मेन्द्र चौधरी के घर पहुंचे। रालोद के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरेन्द्र शर्मा ने बताया कि जयंत चौधरी  शुक्रवार को बागपत जिले के मुकंदपुर, निरोजपुर गुर्जर और छपरौली कस्बे में पहुंचे और असम में उग्रवादियों से हुई मुठभेड़ में बलिदान हुए धर्मेन्द्र चौधरी के स्वजन को सांत्वना दी। इसके अलावा पार्टी के पदाधिकारियों का निधन होने पर स्वजन को सांत्वना दी। शुक्रवार की सुबह नौ बजे रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी गांव निरोजपुर गुर्जर पहुंचे। गांव निवासी पार्टी के पदाधिकारी चौधरी सूरत सिंह के स्वजन को सांत्वना दी। चौधरी सूरत सिंह राष्ट्रीय लोकदल के पुराने कार्यकर्ता थे और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह व चौधरी अजीत सिंह के सहयोगी रहे थे। कुछ दिनों पूर्व चौधरी सूरत सिंह प्रधान का निधन हो गया था। इसके बाद जयंत चौधरी गांव मुकंदपुर पहुंचे और बलिदानी धर्मेन्द्र चौधरी के स्वजन को सांत्वना दी। जवान धर्मेंद्र चौधरी असम राइफल्स में ड्यूटी के दौरान उग्रवादियों से हुई मुठभेड़ में बलिदान हो गए थे। धर्मेन्द्र चौधरी के स्वजन से जयंत चौधरी ने सरकार से मिलने वाली सहायता के बारे में भी पूछा।इसके बाद जयंत चौधरी छपरौली कस्बा पहुंचे और राष्ट्रीय लोकदल के वरिष्ठ कार्यकर्ता अशोक चौधरी के चचेरे भाई राजसिंह के आवास पर पहुंचे। 19 अप्रैल को राज सिंह का निधन हो गया था। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने स्वजन को सांत्वना दी। गौरतलब है कि कुछ दिन पूर्व भी जयंत चौधरी बागपत आए थे और उन पदाधिकारियों के घरों पर पहुंचे थे, जिन पदाधकारियों का निधन हो गया था। जयंत ने स्वजन को सांत्वना दी थी। इस दौरान जयंत ने मीडिया से दूरी बनाकर रखी थी। इस बार भी जयंत चौधरी ने मीडिया से कोई बात नहीं की। समर्थकों के साथ जयंत चौधरी आए और लौट गए। इस दौरान विधायक अजय चौधरी, जिलाध्यक्ष डा. जगपाल सिंह, कुलदीप उज्ज्वल, विकास चौधरी, अरुण तोमर आदि मौजूद रहे।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.