2024 चुनाव के लिए एजेंडा सेट कर रही कांग्रेस

2024 चुनाव के लिए एजेंडा सेट कर रही कांग्रेस, आगामी 2024 चुनाव को लेकर सभी दल अपनी अपनी रणनीति बनाने में जुट गए हैं। जिसमें कांग्रेस कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा कर रही है। कॉन्ग्रेस इस यात्रा के जरिए संगठन को संजीवनी मिलने की उम्मीद जता रही है.राहुल गांधी ने कांग्रेस के इस देशव्यापी अभियान की शुरुआत की है। पार्टी की यह कवायद भारत जोड़ो के जरिये कांग्रेस जोड़ो की भी है। पार्टी इसके जरिये पूरे देश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संदेश देने की कोशिश में है। राजनीतिक विश्लेषकों के अनुसार राहुल गांधी और कांग्रेस इस यात्रा के जरिये 2024 चुनाव से पहले पार्टी के लिए एक एजेंडा सेट करना चाहते हैं। यह यात्रा 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों से गुजरेगी और लगभग 150 दिनों की इस पदयात्रा में 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा रविवार को केरल के हरिपाद से फिर से शुरू हुई जिसमें पार्टी के नेता और तमाम कार्यकर्ता शामिल हुए। यात्रा अपने 12 वें दिन में प्रवेश कर चुकी है, इस यात्रा में कांग्रेस के तमाम नेताओं के साथ-साथ सिविल सोसायटी के तकरीबन 300 लोग भी शिरकत करने जा रहे हैं। राहुल के साथ पार्टी के 117 नेता इस यात्रा में शामिल हुए हैं। जिसमें 28 महिला नेता हैं।कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक राहुल गांधी की इस यात्रा में अलग-अलग राज्यों के लोग शामिल हैं। कांग्रेस नेताओं का मानना है कि इस यात्रा का मकसद यह संदेश देना भी है कि कांग्रेस ही वह पार्टी है जो भारत को जोड़ कर रख सकती है। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि अगर जनता तक यह संदेश भली भांति पहुंच गया तो इससे पार्टी में भी फिर से जान आ जाएगी। पार्टी के नेता जयराम रमेश का कहना है कि भारत जोड़ो इसलिए जरूरी क्योंकि भारत टूट रहा है। क्यों टूट रहा है? इसके तीन कारण हैं। पहला आर्थिक विषमताएं, दूसरा राजनीतिक केंद्रीयकरण और संस्थाओं का दुरूपयोग और तीसरा सामाजिक ध्रुवीकरण।
अब बात करते हैं इस यात्रा में इंतजाम क्या क्या है और शर्तें क्या क्या है?
5 महीने तक चलने वाली यात्रा में शिरकत कर रहे नेताओं को आदेश दिया गया है कि कपड़े धोनी की सुविधा 3 दिन के अंदर मिलेगी। वहीं रोजाना यह यात्रा 22 से 23 किमी का सफर तय करेगी। हर दिन एक ब्रेक के साथ दो बार में यह दूरी तय की जाएगी। रोज सुबह सात बजे यात्रा शुरू होगी और सुबह 10 बजे पहला ब्रेक होगा। वहीं विश्राम के बाद दोपहर में साढ़े तीन बजे से फिर यात्रा जारी रहेगी और शाम को सात बजे फिर रात्रि विश्राम के लिए ठहराव होगा। 3570 किलोमीटर की इस यात्रा में रोजना कंटेनर (बड़े ट्रक) के जरिए नया गांव बसाया जाएगा। इसके लिए 60 कंटेनर को घरनुमा बनाया गया है। सारे कंटेनर एक तय जगह पर रोजाना यात्रा में शामिल लोगों के पास पहुंच जाएंगे। एक कंटेनर में 12 लोग सो सकते हैं। सुरक्षा वजहों से राहुल गांधी अलग कंटेनर में रहेंगे। महिलाओं के ठहरने और सोने के लिए अलग से कंटेनर बने हैं। कंटेनर के इस आशियाने में सभी यात्री एक टेंट के अंदर खाना खाएंगे।कांग्रेस अब ऐसी ही एक और भारत जोड़ी यात्रा पश्चिम बंगाल में निकालने की तैयारी कर रही है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा कि बंगाल में इस भारत जोड़ो यात्रा का नेतृत्व बंगाल प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता करेंगे।

@Back to Home

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.