आग हादसे बढ़ा रहे टेंशन, पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रहे आग के हादसे दमकल विभाग की टेंशन बढ़ा रहे हैं।  सिटी स्टेशन से घर लौट रहे मेरठ कॉलेज के प्रवक्ता की चलती कार में आग लग गई। हादसे में प्रवक्ता बाल-बाल बचे। कुछ ही देर में कार आग का गोला बन गई। दमकल कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। वहीं गढ़ रोड पर एक रेस्टारेंट, जागृति विहार में खाली प्लॉट और इंचौली में पुराने टायर के गोदाम में आग लगने की घटना हुई। प्रोफेसर्स कॉलोनी विक्टोरिया पार्क निवासी विनय कुमार बरसर मेरठ कॉलेज में एकाउंट अफसर हैं। वह कॉलेज प्रवक्ता का दायित्व भी संभालते हैं। गुरुवार सुबह वह कार से बेटे को सिटी स्टेशन पर छोड़कर घर लौट रहे थे। जादूगर चौराहे के निकट उनकी कार से आग की लपटे उठनी लगी। लोगों ने शोर मचाया तो प्रवक्ता ने तुरंत कार रोक दी और समय रहते बाहर निकल गए। सीएफओ संतोष कुमार राय ने बताया कि इंजन एरिया में वायरिंग में शार्ट सर्किट से आग लगी थी। आग की दूसरी घटना गढ़ रोड स्थित रेस्टोरेंट में घटी। यहां द्वितीय तल पर लगी आग में दिल्ली निवासी कबीर फंस गया। उसने छत पर चढ़कर जान बचाई। दमकल की टीम ने उन्हें सुरक्षित नीचे उतारा। दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। तीसरी घटना जागृति विहार में हुई। सुबह के वक्त यहां खाली प्लॉट में आग लग गई। धुएं से लोग परेशान हो गये। दमकल की गाड़ी ने उसे बुझाया। आग की चौथी घटना इंचौली निवासी शरमीम के यहां पुराने टायर के गोदाम में घटी। दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। दिन की छठी घटना जागृति विहार सेक्टर आठ में घटी। यहां भी खाली प्लॉट में आग से हड़कंप मच गया। आग हादसों की यदि बात की जाए तो दो बड़ी घटनाएं बाईपास स्थित ग्रांडे फाइव और दूसरी शास्त्री नगर के पीवीएस माल पर हुई। ग्रांडे फाइव सरीखे स्थान पर आग हादसे को लेकर दमकल विभाग अब नए सिरे से तैयारियों में जुट गया है।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.