कैंट में अमित ने खिलाया कमल

कैंट में अमित ने खिलाया कमल, मेरठ की कैंट विधानसभा सीट पर अमित अग्रवाल ने एक बार फिर कमल खिला दिया है। उन्होंने अपने प्रतिद्धंद्धी प्रत्याशियों को करारी शिकस्त दी है। गठबंधन से रालोद की प्रत्याशी मनीषा अहलावत दूसरे और बसपा प्रत्याशी अमित शर्मा तीसरे नंबर पर हैं। भाजपा के अमित अग्रवाल 50 हजार मतों से आगे चल रहे हैं। अमित अग्रवाल के समर्थकों ने जश्न मनाना भी शुरू कर दिया है। भाजपा प्रत्याशी अमित अग्रवाल 1993 और 1996 में दो बार विधायक रहे हैं। भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता रहे अमित अग्रवाल को बीच में पार्टी में तवज्जो न मिलने पर वे सपा में चले गए। मोदी लहर में फिर भाजपा में आ गए। इस बार पार्टी ने अमित को टिकट भी दिया है। 13वें राउंड की मतगणना तक अमित अग्रवाल को 59488, रालोद गठबंधन प्रत्याशी मनीषा अहलावत को 17890, बसपा के अमित शर्मा को 15674, कांग्रेस के अवनीश काजला को 1848 वोट मिले हैं। कैंट में अमित ने खिलाया कमल, हालांकि गठबंधन इस बार सीट पर मजबूत हुआ है। गठबंधन की मनीषा अहलावत ने बसपा के अमित शर्मा से वोटों में बढ़त बनाई है। अमित अग्रवाल अब तीसरी बार भाजपा के टिकट पर जीतकर विधायक बनेंगे। 2002 में विपक्ष की लहर थी उस वक्त केवल कैंट सीट अकेली सीट थी। जिस पर भाजपा का कमल खिला था। 2007 में भी यहां भाजपा के टिकट पर सत्यप्रकाश अग्रवाल ने जीत दर्ज कराई थी। 2012 में फिर से भाजपा के सत्यप्रकाश अग्रवाल जीते थे। 2017 में भाजपा लहर में मेरठ में बीजेपी ने 7 में से 6 सीटें जीती और सत्यप्रकाश अग्रवाल फिर से कैंट सीट पर जीते। साल 2017 में सत्यप्रकाश अग्रवाल ने यहां 76619 वोटों के अंतर से जीते थे। वहीं दूसरे नंबर पर रहे,BSP के सतेंद्र सोलंकी को 55899 वोट मिले थे। कांग्रेस की सीट पर उतरे रमेश ढींगरा को 39,650 वोटों से संतोष करना पड़ा था। इस सीट पर भाजपा के सत्य प्रकाश अग्रवाल पिछले 4 चुनावों 2002 से 2017 तक लगातार विधायक बनते आ रहे हैं। इस बार पार्टी ने सत्यप्रकाश अग्रवाल का टिकट बदलकर अमित अग्रवाल को दिया है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.