सीसीएसयू में एमओयू साइन, चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के जंतु विज्ञान विभाग द्वारा ICAR IISWC Dehradun भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के अंतर्गत भारतीय मृदा एवं जल संरक्षण संस्थान के बीच MOU मेमोरेंडम आफ अंडरस्टैंडिंग साइन किया गया जिसकी सहायता से चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के छात्रों को भारतीय मृदा एवं जल संरक्षण संस्थान देहरादून के साथ मिलकर कार्य करने का अवसर प्राप्त होगा इसी के संबंध में गेस्ट लेक्चर का भी आयोजन किया गया जिसका विषय “science of rivers and their management” रहा। कार्यक्रम की मुख्य संयोजिका प्रोफ़ेसर बिंदु शर्मा रही। कार्यक्रम में प्रोफेसर एस एस लाल, प्रोफेसर नीलू जैन गुप्ता, प्रोफ़ेसर संजय कुमार भारद्वाज, प्रोफेसर अशोक कुमार चौबे, प्रोफ़ेसर दुष्यंत कुमार चौहान, जंतु विज्ञान विभाग एवम् समस्त छात्र छात्राओं की उपस्थिति रही। इसी के साथ साथ भारतीय मृदा में जल संरक्षण संस्थान के वैज्ञानिक डॉक्टर मुरुगंदनम मुथैया जिन्होंने सर्वप्रथम नदी संरक्षण के ऊपर प्रकाश डाला साथ ही साथ रामसार वेटलैंड के बारे में विस्तारपूर्वक समझाएं। साथ ही साथ जल संरक्षण एवं उससे संबंधित आंकड़ों का संग्रह तथा विश्लेषण के बारे में विस्तारपूर्वक बताया। अंत में उन्होंने नेनो टेक्नोलॉजी का उपयोग जल संरक्षण और मृदा संरक्षण में किस प्रकार किया जा सकता है उस पर प्रकाश डाला।

सीसीएसयू में अंबेडकर जयंती

विधि अध्ययन संस्थान, चौ0 चरण सिंह विश्वविद्यालय परिसर, मेरठ में डा0 भीम राव अम्बेडकर बाबा साहेब के जन्मदिवस की पूर्व संध्या पर श्भारत के निर्माण मे बाबा साहब का योगदानश् विषय पर एक निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। निबंध प्रतियोगिता का उद्घाटन संस्थान के समन्वयक डा0 विवेक कुमार  ने किया। कार्यक्रम के संयोजक डा0 कुसुमा वती व श्रीमति सुदेशना ने प्रतियोगिता में भाग ले रहे सभी प्रतिभागियों को नियमों से अवगत कराते हुये कार्यक्रम का संचालन किया। प्रतियोगिता प्रारम्भ होने से पहले विधि अध्ययन संस्थान के समन्वयक डा0 विवेक कुमार जी ने डा0 भीम राव अम्बेडकर के जीवन के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम मे डा0 विकास कुमार, श्रीमती अपेक्षा चौधरी, श्रीमती मोनीका, डा0 धनपाल, डा0 सुशील कुमार शर्मा, डा0 महिपाल जी आदि उपस्थिति रहे। निबन्ध प्रतियोगिता मंे मानसी गुप्ता, भारती पवार, दीपा रानी, मेघा, ख्याति, अदिति, ज्योति, प्रेरणा, जानवी, लक्ष्य, आयुशी, कुमकुम, निकीता, आरती, तान्या आदि एलएल-एम0 व बी0ए0एलएल-बी0 के कुल 38 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। वहीं दूसरी ओर  डॉक्टर भीमराव अंबेडकर छात्रावास में अंबेडकर जयंती मनायी गयी।  मुख्य वक्ता अजय मित्तल रहे। उन्होंने कहा कि  भीमराव अम्बेडकर भारत के ऐसे पहले नेता थे जिन्होंने दलितों के प्रतिनिधी के रूप में तीनो गोलमेज सम्मेलनों में भाग लिया था। इनकी योग्यता और कार्यकुशलता के कारण इन्हे भारत का पहला कानून मंत्री बनाया गया। । डॉक्टर संजीव कुमार ने अतिथियों का परिचय कराया,  संचालन ललित मोहन ने किया। इस अवसर पर डॉक्टर दुष्यंत चौहान डॉक्टर यशवेंद्र, डॉक्टर अजय, मोनी, शशि, पवन, डॉक्टर अंशु शर्मा, चंदन, देव, विपुल, अविनाश आदि मौजूद रहे।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.