चालान भर दिया वेबसाइट पर चैक जरूर करें

चालान भर दिया वेबसाइट पर चैक जरूर करें, दिल्ली समेत देश के सभी राज्यों में  अगर ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर आपका कोई चालान कटा था या आपको कोई नोटिस मिला था और आपने ट्रैफिक पुलिस की वेबसाइट या वर्चुअल कोर्ट के जरिए जुर्माना भरा दिया है, तब भी आप निश्चिंत होकर ना बैठे रहे और एक बार वेबसाइट पर जाकर चेक जरूर कर लें। कहीं ऐसा ना हो कि जुर्माना भरने के बाद भी आपका चालान या नोटिस पेंडिंग दिखा रहा हो। आजकल ट्रैफिक पुलिस को ऐसी कईं शिकायतें मिल रही हैं, जिनमें लोगों का कहना है कि चालान जमा कराने के बाद भी वेबसाइट पर पेंडिंग दिखा रहा है, जिसके चलते उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर जिन्हें अपनी गाड़ी किसी को बेचनी है या कमिर्शल गाड़ी की फिटनेस जांच करानी है, उन्हें इसकी वजह से भारी परेशानी हो रही है। सूत्रों का कहना है कि ज्यादातर वर्चुअल कोर्ट के चालानों के मामलें में ऐसी शिकायतें सामने आ रही हैं। इसकी वजह से चालानों की पेंडेंसी भी अधिक दिखाई देती है।

राजेश कुमार नाम के एक शख्स ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस ने अप्रैल 2021 में उनकी गाड़ी का एक चालान काटा था, जिसका जुर्माना उन्होंने कोर्ट में जमा भी कर दिया था, चालान भर दिया वेबसाइट पर चैक जरूर करें, लेकिन करीब एक साल बाद भी अभी तक वेबसाइट पर उनका चालान पेंडिंग ही दिखा रहा है, जिसके चलते उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

कुछ ऐसी ही दिक्कत पिछले दिनों राजीव रंजन को भी झेलनी पड़ी थी, जब ऑनलाइन जुर्माना भरने के बाद भी वेबसाइट पर कई महीनों तक उनका चालान पेंडिंग ही दिखाता रहा। कई बार शिकायत करने के बाद उन्हें इस समस्या से निजात मिली। इस बारे में ट्रैफिक पुलिस के सूत्रों का कहना है कि जब कोई ऑनलाइन जुर्माना जमा कराता है, तो उसकी एक स्लिप जनरेट होती है, जो कंप्यूटर ब्रांच में जाती है और वहीं से चालान को अपडेट करके डिस्पोजल में डाला जाता है। इसके अलावा वर्चुअल कोर्ट में डिस्पोज होने वाले चालान के स्टेटस को अपडेट करने में भी थोड़ा वक्त लग जाता है, क्योंकि उसकी जानकारी कोर्ट से ट्रैफिक पुलिस के पास आती है। इसीलिए जुर्माना भरने के बाद वेबसाइट से चालान हटाने में कुछ समय लगा जाता है। आमतौर पर 5-7 दिन में यह काम हो जाना चाहिए, लेकिन सूत्रों का कहना है कि स्टाफ की कमी, अधिक वर्कलोड और कई बार किसी तकनीकी खराबी के चलते चालान का स्टेटस अपडेट होने में देरी हो जाती है और इस वजह से जुर्माना भरने के बाद भी चालान वेबसाइट पर पेंडिंग दिखाता रहता है, लेकिन अगर जुर्माना भरने वाले ने रसीद का प्रिंट आउट निकाल रखा है, तो उसे दिखाकर वह गाड़ी चला सकता है। उसे किसी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसके अलावा कई लोगों की यह भी शिकायत है कि कोर्ट में जुर्माना भरने के बाद भी उनके जब्त किए गए डॉक्यूमेंट्स समय पर नहीं लौटाए जाते हैं, जिसके चलते उन्हें ट्रैफिक पुलिस के दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते हैं। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.