छात्र की हत्या, सुरक्षा इंतजामों पर सवाल, बाईपास स्थित एमआईटी कालेज में छात्र की सरेआम गोदकर हत्या कर दी गयी। भरे इंस्टीटयूट में छात्र की हत्या से हड़कंप मचा हुआ है, वहीं दूसरी ओर इस हत्या कांड के बाद इंस्टीटयूट में आने वाले छात्रों की सुरक्षा पर भी गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। हत्या कांड के पीछे एसपी देहात केशव कुमार छात्र गुटों के बीच बर्चस्व की जंग बता रहे हैं। कुछ को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। इंजीनियरिंग के छात्र निखिल चौधरी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। छात्र पर चाकू से 20 वार किए गए। बताया जा रहा है कि लाइब्रेरी के पास छात्र पर हमला किया गया और कैंपस में दौड़ा-दौड़ाकर बुरी तरह पीटा गया। बाद में कातिलों ने चाकू घोंपकर हत्या कर दी। बागपत के शिकोहपुर निवासी निखिल चौधरी एमइटी कालेज में बीटेक  मैकेनिकल में सेकेंड ईयर का छात्र था। निखील चौधरी हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रहा था। बताया गया है की छात्र निखिल का इसी कॉलेज में पढ़ने वाले प्रथम वर्ष के छात्र अभिषेक से विवाद हुआ। जहां छात्रों के गुटबाजी में वर्चस्व को लेकर मंगलवार को भी मोबाइल पर कहासुनी हुई। जिसके बाद दोनों गुटों के छात्रों ने एक दूसरे को देख लेने की धमकी दी। बुधवार को कॉलेज में निखिल क्लास में था। तभी वहां आरोपी अभिषेक अपने साथियों के साथ पहुंचा। निखिल ने जैसे ही अभिषेक को देखा तो वह क्लास रूम से बाहर की तरफ आया। इसी दौरान चार–पांच युवकों ने निखिल के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। निखिल के सीने, गर्दन और कमर के पास भी चाकू मारे गए। निखिल जमीन पर गिर पड़ा। साथी छात्र आनन फानन में पास में सुभारती अस्पताल में ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या की सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस व एसपी देहात केशव कुमार भी मौके पर पहुंच गए। वहीं दूसरी ओर निखिल के परिवार में हत्या की वारदात से कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने चार की गिरफ्तारी का दावा किया है।

@Back Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.