कमिश्नर के आश्वासन पर धरना समाप्त

कमिश्नर के आश्वासन पर धरना समाप्त, सपा नेता व वाल्मीकि समाज का बड़ा चेहरा विपिन मनोठिया पर हमले के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर चल रहा धरना कमिश्नर के आश्वासन पर समाप्त कर दिया गया। यह जानकारी वाल्मीकि माेर्चा के संयोजक विनोद बैचेन ने दी। उन्होंने बताया कि  विपिन मनोठिया के हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर 3 मार्च 2022 से कमिश्नरी पार्क मेरठ में लगातार चल रहा अनिश्चितकालीन धरना मंडल आयुक्त महोदय के द्वारा हमलावरों के खिलाफ उचित एवं कठोर कानूनी कार्यवाही करवाने के आश्वासन के बाद स्थगित कर दिया गया। कमिश्नर के आश्वासन पर धरना समाप्त, इससे पूर्व धरना स्थल पर ही पूर्व घोषित कार्यक्रम अनुसार वाल्मीकि जनाक्रोश पंचायत का आयोजन किया गया । जिसमें मेरठ जनपद की स्थानीय निकायों के अलावा अन्य जनपदों के वाल्मीकि नेताओं ने भी हिस्सा लिया ।उक्त पंचायत में वाल्मीकि समाज के अलावा दलित समाज से संबंधित विभिन्न संगठनों एवं व्यापारी नेताओं ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए आंदोलन को अपना समर्थन एवं सहयोग देने का आश्वासन दिया। जनाक्रोश पंचायत में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए वाल्मीकि संघर्ष मोर्चा के संयोजक एवं वरिष्ठ ट्रेड यूनियन नेता विनोद कुमार बेचैन ने आंदोलनकारियों को बधाई देते हुए कहा कि यदि यह आंदोलन नहीं किया जाता तो पुलिस प्रशासन के द्वारा उक्त मामले में निश्चित रूप से फाइनल रिपोर्ट लगा कर मामले को रफा-दफा कर दिया गया होता । श्री बेचैन ने कहा कि हमलावरों के द्वारा जमानत के लिए न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत होना ही इस आंदोलन की जीत है । पुलिस किसी भी कीमत पर हमलावरों को गिरफ्तार करने के लिए तैयार नहीं थी । यह आंदोलन की ही वजह है जो पुलिस प्रशासन द्वारा आरोपियों पर न्यायालय के समक्ष पेश होने के लिए दबाव बनाया गया । पूर्व राज्य मंत्री प्रभु दयाल बाल्मीकि ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा की मंडलायुक्त जी से वार्ता के उपरांत यह आंदोलन सिर्फ स्थगित किया गया है ना कि समाप्त किया गया है । अब यह आंदोलन मेरठ से लेकर लखनऊ तक लड़ा जाएगा और प्रदेश के मुख्यमंत्री  को भी पूरे मामले से अवगत कराया जाएगा । डॉक्टर अंबेडकर शोषित समाज शिक्षा प्रसार समिति के अध्यक्ष जे .पी .सिंह एवं राष्ट्रीय मानव एकता संस्था के अध्यक्ष आर .के .बौद्ध ने भी संयुक्त रूप से स्थानीय पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि एक माह गुजरने के बाद भी उनकी नींद नहीं टूटी और हमलावर आज भी खुलेआम घूम रहे हैं ।अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चन्द चावरिया जी ने आंदोलन को एक माह तक अनुशासित रूप से चलाने के लिए श्री विनोद जी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आज बेचैन जी के नेतृत्व के चलते ही हमलावरों को न्यायालय की शरण में जाकर जमानत के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं । सफाई मजदूरों के वरिष्ठ नेता रमेश गेहरा जी ने भी दलित एकता पर बल देते हुए कहा कि अब अंबेडकर वादियों को मनु वादियों के खिलाफ लड़ने के लिए एक मंच पर आ जाना चाहिए ।वरिष्ठ सफाई मजदूर नेता विनेश मनोठिया ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि यह आंदोलन सड़क से लेकर न्यायालय तक लड़ा जा रहा है और हमें पूरा यकीन है देर से ही सही मगर सच्चाई की जीत होगी । उक्त मामले से संबंधित एक ज्ञापन भी मंडल आयुक्त मेरठ जी के माध्यम से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  को भी प्रेषित किया गया । पंचायत में सफाई मजदूर कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री मोनिंदर सूद वाल्मीकि ,दिनेश चौहान , अजय महेंद्र सिंह . कुमारी शालिनी सिंह , दिनेश सूद , श्याम सिंह , महेंद्र चौहान ,गंगा शरण ,राजू ढींगिया , महिपाल वाल्मीकि ,सुगन ठेकेदार , विकास प्रधान ,एहसान सैफी ,राजपाल भारती ,मनोज घाघट ,धर्मपाल सिंह , देवी शरण , महेश बक्सर,
गौरव वैद ,पदमा जॉनसन ,सोनू बेनीवाल ,मोनू वैद आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए । @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *