धड़कने तेज, चंद घंटे बाकि

धड़कने तेज चंद घंटे बाकि, मेरठ की सातों विधानसभा सीटों पर मैदान में उतरे तमाम प्रत्याशियों की धड़कनें सातवें आसमान पर हैं। मेरठ की सात विधानसभा सीटों पर करीब पचास प्रत्याशी मैदान में थे। इनमें से कौन बाजी मार ले जाएगा इसका खुलासा होने में अब बस चंद घंटे शेष हैं। जैसे जैसे मतगणना का वक्त करीब आ रहा है प्रत्याशियों, उनके समर्थकों व राजनीतिक दलों के बड़े नेताओं में भी बेचैनी साफ देखी जा  सकती है। तमाम दलों के प्रत्याशी व समर्थक जीत का दावा कर रहे हैं। हालांकि भाजपाइयों में अधिक आत्मविश्वास नजर आता है। भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंहल ने मेरठ की सातों विधानसभा सीटों पर जीत का दावा किया है। कैंट बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष सुनील वाधवा का  कहना है कि सातों सीटों पर कमल खिलेगा। कैंट सीट पर ऐतिहासिक जीत दर्ज करेंगे। कैंट सीट को भाजपा से कोई नहीं छीन सकता। शहर भाजपा कार्यकारिणी के सदस्य युवा नेता गौरव गोयल ने कहा कि सांसद व महानगर संगठन के अध्यक्ष की मेहनत रंग लाएगी। शहर की सभी तीनों सीटों के अलावा जनपद की सभी सातों सीटों पर भाजपा शानदार जीत दर्ज कराने जा रही है। गौरव गोयल ने कहा कि जीत ही दर्ज नहीं कराने जा रही, भाजपा की सरकार भी बनने जा रही है। धड़कने तेज चंद घंटे बाकि, विपक्ष के दावों की हवा निकलने में अब बस चंद घंटे बाकि हैं।

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए पंजाबी संगठन के अध्यक्ष रमेश ढींगरा जो अब भाजपा का पंजाबी चेहरा बन गए हैं, उन्होंने दावा किया कि कैंट विधानसभा सीट के अलावा जनपद की सभी सातों सीटें तो उनकी पार्टी जीत ही रही है। इसके अलावा पूरे प्रदेश में जहां-जहां पंजाबी बाहुल्य इलाके हैं, वहां भी भाजपा का परचम मजबूती से पंजाबी समाज ने फहराया है। यूपी में हार हाल में भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

वहीं दूसरी ओर मतगणना को लेकर कमिश्नर व आइजी ने वचरुअल माध्यम से मंडल के सभी डीएम व एसएसपी को निर्देशित किया। मतगणना के दौरान हंगामा करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के साथ अफवाहों की निगरानी के लिए कंट्रोल रूम सक्रिय करने के लिए निर्देश दिए। कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह व आइजी प्रवीण कुमार ने मंडल के सभी जिलों के डीएम व एसएसपी को निर्देशित किया। कमिश्नर ने कहा कि मतगणना के लिए भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार समस्त तैयारियां पूर्ण करनी होगी। मतगणना का कार्य सावधानी के साथ, पारदर्शी और सुगमता से कराया जाए। मतगणना के दौरान किसी प्रकार का विवाद होने पर नियमों के अनुसार प्रकरणों को निपटाया जाए। उड़ने वाली अफवाहों की रोकथाम के लिए कंट्रोल रूम का प्रभावी संचालन किया जाए। प्रेस की ब्रीफिंग समय से और सही से हो। हंगामा करने व मतगणना स्थल और तय परिधि में अवांछित तत्व के प्रवेश न हो पाएं, इसके लिए पुलिस का अधिक सतर्कता से कार्य करना होगा।

मंडी समिति की पार्किंग

मतगणना एजेंटों के वाहन बिजली बंबा पुलिस चौकी से बाएं मुड़कर आगे सेंट फ्रासिंस स्कूल तिराहे से बाएं मुड़कर शहीद उधम सिंह चौक से दाहिने मुड़कर मंडी रोड पर मेरठ विकास प्राधिकरण की जमीन के पूरब किनारे पर पार्क किए जाएंगे। इसी जमीन पर पश्चिम किनारे मतगणना कर्मी, पुलिसकर्मियों और मीडियाकर्मियों की पार्किंग बनाई गई है। उनके वाहन इस पार्किंग में होंगे। मतगणना के प्रेक्षक, डीएम एवं एसएसपी समेत तमाम अफसरों के वाहनों को मंडी के गेट नंबर दो के सामने सड़क पार करके पार्क किया जाएगा। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.