डीएम को पीएम के हाथों पुरस्कार, मेरठ वासियों के लिए गुरुवार का दिन बड़े ही गौरव का दिन रहा। आज के दिन की यदि बात की जाए तो मेरठ की बल्ले बल्ले रही। मेरठ के नाम दो पुरूस्कार आए। ये दोनों ही पुरस्कार यहां के जिलाधिकारी की वजह से मिले हैं। मेरठ का डंका पूरे देश में बज रहा है। दो-दो प्रधानमंत्री पुरस्कार प्राप्त करने का सौभाग्य मिला। इनमें एक पुरस्कार जनपद के वर्तमान जिला अधिकारी दीपक मीणा ने प्राप्त किया जबकि दूसरा पुरस्कार मेरठ के पूर्व डीएम अनिल ढींगरा को मेरठ में रहते हुए किए गए सराहनीय कार्यों के लिए मिला। दोनों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के विज्ञान भवन में सिविल सर्विस डे के अवसर पर आयोजित समारोह में सम्मानित किया। मेरठ में जिला अधिकारी पद पर तैनाती के दौरान अनिल ढींगरा ने अप्रैल 2018 से मार्च 2020 के बीच वित्तीय क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया। प्रधानमंत्री पुरस्कार की श्रेणी इंक्लूसिव डेवलपमेंट थ्रू क्रेडिट फ्लो टू प्रायरिटी सेक्टर मैं उन्होंने बैंक उद्योग व अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ-साथ उद्यमियों के साथ मिलकर प्राथमिकता वाले क्षेत्र को वित्तीय मदद में कमी नहीं आने दी। वर्तमान में जिलाधिकारी मेरठ के पद पर तैनात दीपक मीणा ने सिद्धार्थनगर जनपद में जिलाधिकारी रहते हुए वहां पैदा होने वाले काला नमक चावल की गुणवत्ता सुधार कर उसका उत्पादन बढ़ाने तथा उसे उसे अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया। काला नमक चावल को बुद्ध का महाप्रसाद कहा जाता है।  धीरे धीरे लोगों ने इसकी खेती को छोड़ दिया था।इसके उत्पादन में वृद्धि करने और गुणवत्ता के सुधार के लिए किसानों को प्रशिक्षण दिलाया। इस चावल को उन्होंने अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने का काम किया। पुरस्कार पर अनेक ने बंधाई दी है।

 

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *