दुनिया के सबसे प्रदूषित 50 में 35 भारतीय शहर

प्रदूषण के मामले में पूरी दुनिया में भारत की स्थिति सबसे ज्यादा शर्मनाक है। इस बात की गवाही आंकड़े दे रहे हैं। यह स्थिति तो तब है जब एनजीटी और सुप्रीमकोर्ट जैसी शीर्ष स्थाएं बार-बार फटकार लगाती रहती हैं। यदि यह फटकार न होती तो आंकड़ों में दुनिया के टॉप पचास शहरों में सभी भारतीय होते। भारत की राजधानी दिल्ली लगातार चौथे साल दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी रही। यही नहीं, दुनिया के 50 सबसे प्रदूषित शहरों में से 35 भारतीय शहर हैं। आईक्यूएआईआर की ताजा रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है। 2021 की विश्व वायु गुणवत्ता रिपोर्ट में लगातार चौथे वर्ष नई दिल्ली को दुनिया में सबसे प्रदूषित राजधानी शहर (और चौथा सबसे प्रदूषित शहर) के रूप में दर्शाया गया है। इसके बाद बांग्लादेश में ढाका, चाड में एन’जामेना, ताजिकिस्तान में दुशांबे और ओमान में मस्कट का स्थान है। नई दिल्ली में 2021 में PM2.5 में 14.6% की वृद्धि देखी गई, जो 2020 में 84 μg / m3 से बढ़कर 96.4 μg / m3 हो गई। भारत सबसे प्रदूषित शहरों में भी प्रमुखता से शामिल है – शीर्ष 50 सबसे प्रदूषित शहरों में से 35 भारत में हैं, जबकि भारत का वार्षिक औसत PM2.5 स्तर 2021 में 58.1 μg / m3 तक पहुंच गया, जिससे वायु गुणवत्ता में सुधार के तीन साल के प्रयास विफल हो गए। भारत का वार्षिक PM2.5 औसत अब 2019 में मापे गए पूर्व स्तर पर वापस आ गया है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.