गोली मारकर एक की हत्या, सरूरपुर थाना के पांचली में हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी, गोली लगागने से एक अन्य शख्स घायल है। उसकी हालत नाजुक बनी है। इस घटना से पुलिस मेंं हड़कंप मचा है। हमलावरों की तलाश में ताबड़तोड़ दबिशें दी जा रही हैं। बृहस्पतिवार देर रात बदमाशों ने सरूरपुर थाना क्षेत्र के पांचली गऊशाला में में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें एक युवक तो जान बचाकर भाग निकला। दो अन्य गोली लगने से घायल हो गए। एक की मौके पर ही मौत हो गई। दूसरे को गंभीर हालत में दिल्ली में रेफर किया गया है। पूरे मामले में पुलिस घटना की जांच में जुटी है। सरूरपुर थाना क्षेत्र के पांचली गांव के जंगल में गौशाला बनी हुई है। यहां पर चौकीदार नेत्रपाल निवासी पांचली की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि नेत्रपाल का दूसरा भाई हारून गंभीर रूप से घायल है, जिसे निजी अस्पताल से दिल्ली भेज दिया गया। घटना की सूचना पर एसपी देहात केशव कुमार भी मौके पर पहुंचे और जानकारी ली। ग्रामीणों ने बताया कि गौशाला पर कुछ हमलावरों ने हमला करके एक को मौत के घाट उतार दिया। जबकि दूसरा गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया। जबकि एक चश्मदीद गवाह ने भाग कर किसी तरह से जान बचाई। मामले को लेकर मौके पर सांप्रदायिक तनाव व्याप्त हो गया और मौके पर एसएसपी के थानों के पुलिस बल के साथ पहुंचे। वहीं मामले में गांव चारागाह की भूमि पर अवैध कब्जा हटवाने को लेकर विरोध में हत्या किए जाने की बात सामने आ रही है। मृतक के भाई चरण सिंह उर्फ चरण ने गांव के 3 लोगों के नामजद तहरीर देते हुए चरागाह की भूमि से अवैध कब्जा हटवाने के विरोध में हत्या करने का कारण बताया है । पांचली बुजुर्ग के भाजपा नेता व आर एस एस कार्यकर्ता चरण सिंह उर्फ चरनी ने पुलिस को गांव के ही 3 लोगों के नाम बताते हुए घटना के बारे में बताया कि वह उसका भाई नेत्रपाल व गांव का ही हारुन पुत्र था गौशाला पर मौजूद थे ।

@Bacl Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.