हार के बाद अब कर रहे स्यापा

हार के बाद अब कर रहे स्यापा, उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव में जो प्रत्याशी हार गए हैं वो अब स्यापा कर रहे हैं। दूसरों पर ठीकरा फोड़ रहे हैं। सपा प्रत्याशी योगेश वर्मा ने अपनी हार का कारण पार्टी के अंदर भीतरघात करने वालों को बताया है। मतगणना के अगले दिन एएनआइ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि वह जयचंदों की वजह से चुनाव हारे हैं। जिन लोगों को पार्टी की तरफ से टिकट नहीं मिला है, वो हार का कारण है। जिन लोगों को टिकट नहीं मिला उन लोगों ने अंदर विरोध कर दिक्कत पैदा की। योगेश वर्मा ने कहा कि चुनाव के तुरंत बाद से पूरे एक महीने तक ईवीएम और स्ट्रांग रूम की चौकसी की। वह यह चुनाव जीतकर हारे हैं। योगेश वर्मा ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को भीतरघात की यह जानकारी दी जाएगी। इन्हीं की तर्ज पर भाजपा के प्रत्याशी मनिंदरपाल सिंह भी हार नहीं पचा पा रहे हैं। हालांकि शहर विधानसभा सीट से भाजपा के कमलदत्त शर्मा ने हंसते-हंसते मतदाताओं का निर्णय स्वीकार किया है। कांग्रेस के शहर प्रत्याशी रंजन शर्मा ने भी कहा कि मतदाता का फैसला सिर माथे। वहीं दूसरी ओर भाजपा के सिवालखास भाजपा प्रत्याशी मनिन्दर पाल सिंह को हराने के लिए भितरघात किया है। जल्द ही इन बागियों के खिलाफ संगठन स्तर से कठोर कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार को भाजपा के जिलाध्यक्ष विमल शर्मा ने यह बात कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहीं। जिलाध्यक्ष शुक्रवार को चुनाव में सहयोग के लिए आभार प्रकट करने के लिए कलीना गांव में भाजपा प्रत्याशी मनिन्दर पाल सिंह के कैंप कार्यालय पहुंचे थे। इस दौरान बड़ी संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए जिलाध्यक्ष ने कहा कि हम जीत के लिए चुनाव लड़े थे, लेकिन मनिन्दर पाल को हराने के लिए पार्टी के कुछ नेताओं व कार्यकर्ताओं ने अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए भितरघात किया। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.