हस्तिनापुर की खुदाई में मिली नायब चीजें

हस्तिनापुर की खुदाई में मिली नायब चीजें, हस्तिनापुर में पांडव टीला पर चल रहे उत्खनन मे शुक्रवार को भी कार्य जारी रहा। भारतीय पांडव सेना के अध्यक्ष रणधीर उपाध्याय ने प्राचीन सिक्कों को अधीक्षण पुरातत्वविद डीबी गणनायक को सौंप दिया। वहीं हरिदास कुटी के समीप से भारी मात्रा में लाल व हरे रंग के धारीदार पत्थर भी मिले। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के अधीक्षण पुरातत्वविद डीबी गणनायक के निर्देशन मे पांडव टीले पर उत्खनन का कार्य चल रहा है। जिसमें अभी तक काफी प्राचीन अवशेष प्राप्त हुए है। एक ब्लाक में काफी प्राचीन दीवारे व अन्य अवशेष सिल बटटा व खाना बनाने वाला चूल्हा भी स्पष्ट दिखाई दे रहा है। वही दूसरे ब्लाक में चल रहे उत्खनन में मिली हड्डियों वाले ब्लाक में सफाई कार्य जारी है। जिस ब्लाक को ढक दिया गया है। एएसआई का कहना है कि विशेषज्ञों के द्वारा हडिडयों की जांच कराई जाएगी। जिसके लिए शीघ्र ही विशेषज्ञ साइट पर पहुंचेंगे। भारतीय पांडव सेना के अध्यक्ष व समाजसेवी रणवीर सिंह उपाध्याय ने सात प्राचीन सिक्के अधीक्षण पुरातत्वविद डीबी गणनायक को सौंपे। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि यह सिक्के उन्हें बाबा हरिदास कुटी के समीप स्थित कूप के पास से प्राप्त हुए थे। हस्तिनापुर की खुदाई में मिली नायब चीजें, जिन्हें पुरातत्व विभाग की संपत्ति मानते हुए उन्हें सौंप दिया है। वही गणनायक ने भी उनके इस कार्य की सराहना की है। इस दौरान नेचुरल साइसेंज ट्रस्ट के चेयरमेन व शोभित विवि के असिस्टेंट प्रोफेसर प्रियंक भारती भी मौजूद रहे। वही हरिदास कुटी के समीप से ही एक मूर्ति व लाल पत्थर व हरे पत्थर और लाल धारी आकृति के पत्थर भी मिले हैं। जिन्हें अधीक्षण पुरातत्वविद ने भी मौके पर जाकर देखा। उन्होंने मूर्ति को प्राचीन होने से इंकार किया है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.