हिंसा में एक मौत 19 गिरफ्तार, वडोदरा: गुजरात के वडोदरा शहर में एक मामूली सड़क दुर्घटना के कारण सांप्रदायिक तनाव फैल गया और दंगाइयों ने एक-दूसरे पर पथराव करने के अलावा एक पूजा स्थल तथा वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया. पुलिस ने यह जानकारी दी. रविवार देर रात हुई इस घटना के बाद से पुलिस ने दंगा करने के आरोप में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया है. वडोदरा के करेलीबाग पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि शहर के रावपुरा इलाके में दोपहिया वाहनों की मामूली दुर्घटना के बाद दो समुदायों के लोगों के बीच झड़प हो गई. तीन लोगों को मामूली चोटें आई हैं. शहर के पुलिस आयुक्त शमशेर सिंह ने कहा, ‘घटना एक सड़क दुर्घटना को लेकर हुई और दो समूह आपस में भिड़ गए. तीन लोगों को मामूली चोटें आई हैं. अब स्थिति सामान्य है. हम पुलिस शिकायत दर्ज कर रहे हैं.’ पुलिस अधिकारी के मुताबिक, इसके बाद मामला इतना बढ़ गया कि रावपुरा इलाके से सटे करेलीबाग इलाके में कुछ ही देर में दो समुदायों के लोग जमा हो गए और एक दूसरे पर पथराव करने लगे. पुलिस अधिकारी ने बताया कि भीड़ ने सड़क किनारे स्थित एक मंदिर की मूर्ति, दो ऑटोरिक्शा और दो दोपहिया वाहनों में तोड़फोड़ की. शहर के जोन-4 के पुलिस उपायुक्त पन्ना मोमाया ने कहा, ‘पुलिस ने इलाके में पहुंचकर स्थिति को नियंत्रण में किया. हमने इलाके में तलाशी अभियान चलाया और रात के दौरान इस सिलसिले में 15 लोगों को गिरफ्तार किया गया.’ पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या बढ़कर 19 हो गई है. करेलीबाग पुलिस थाने में लोगों के अज्ञात समूहों के खिलाफ किसी वर्ग विशेष के धर्म का अपमान करने के इरादे से दंगा करने, गैरकानूनी सभा करने, घातक हथियार रखने, पूजा स्थल को अपवित्र करने के लिए भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी. इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है. गौरतलब है कि इससे पहले 10 अप्रैल को गुजरात के दो शहरों- हिम्मतनगर और खंभात में रामनवमी के जुलूस के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसा में एक बुजुर्ग की मौत हो गई थी.

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.