इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के कसूरवारों का मिलेगी सजा

इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के कसूरवारों का मिलेगी सजा, स्याना हिंसा का शिकार हुए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह जो पूर्व में मेरठ में भी तैनात रहे, उनके कसूरवारों को आखिरकार सजा का वक्त शुरू हो गया है। इस मामले में न्यायालय ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सुबोध सिंह के परिवार के लिए अच्छी खबर दी है। साल 2018 दिसंबर तीन को बुलंदशहर के स्याना कस्बे में हुई  हिंसा के मामले में अदालत ने बड़ी कार्रवाई करते हुए इस हिंसा के 36 आरोपितों पर राजद्रोह के आरोप तय कर दिए हैं। उस वक्‍त यह हिंसा काफी चर्चाओं में रही थी। अपर सत्र न्यायालय-12 की अदालत ने स्याना हिंसा के आरोपितों पर हिंसा की अन्य धाराओं के साथ राजद्रोह का आरोप बनाया हैं। विशेष लोक अभियोजक (स्पेशल काउंसिल) यशपाल सिंह राघव ने बताया कि अपर सत्र न्यायालय-12 की न्यायाधीश विनीता विमल ने स्याना हिंसा के 36 आरोपितों पर 124ए राजद्रोह का आरोप तय किया है। इन आरोपितों में बजरंग दल का योगेश राज भी शामिल है। स्पेशल काउंसिल ने बताया कि स्याना हिंसा के एक आरोपित की फाइल अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश पाक्सो एक्ट तृतीय ने 124 ए का चार्ज बनाने को लेकर बचाव पक्ष व सरकारी अधिवक्ता की बहस सुनने के बाद आरोपित पर राजद्रोह का चार्ज तय किया था। जिसके बाद अपर सत्र न्यायालय-12 की अदालत ने स्याना हिंसा के अन्य 36 आरोपितों पर भी चार्ज तय किया था। जिसमें 124ए का चार्ज नहीं बना था। चार्ज में 124 के आरोप बढ़ोतरी को चार्ज संशोधन का प्रार्थना पत्र दाखिल किया गया था। अदालत ने बचाव पक्ष से प्रार्थन पत्र पर आपत्ति मांगी थी। अदालत ने बचाव व स्पेशल काउंसिल को सुनने के बाद सभी आरोपितों पर चार्ज में 124ए की बढ़ोतरी की है। हालांकि परिवार की यदि बात की जाए तो दुनिया की कोई भी ताकत उनके लिए सुबोध सिंह की कमी पूरी नहीं सकती, लेकिन राहत भर खबर जरूर है कि कसूरवारों को उनके अंजाम तक पहुंचा जा सकेगा। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.