कबाड़ी को नहीं जरूरतमंद बच्चाें को दें

कबाड़ी को नहीं जरूरतमंद बच्चाें को दें, सामाजिक सरकारों से जुड़ी सामाजिक संस्था यथार्थ के सारथी की संस्थापक अध्यक्ष जूही त्यागी ने अभिभावकों से जो बच्चे पास होकर अगली कक्षा में जा रहे हैं उनकी पुस्तकें बजाए कबाड़ियों के जरूरतमंद बच्चों को दिए जाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा है कि  महीने तक अधिकतर स्कूलों में एग्जाम हो जाते है और हमारे बच्चे अगली कक्षा में जाने की तैयारी करने लगते संस्है ऐसे में हम अक्सर अपने बच्चों की पुरानी किताबे कवाड़ी को बेच देते है। अभिभावकों से आग्रह है कि अपने बच्चो की किताबें कबाड़ी को ना दे कर  संस्था यथार्थ के सारथी रामनगर निकट थाना नौचंदी में जमा करवा दे जिससे हम वो किताबे जरूरतमंद बच्चो को जो उस कक्षा में आये है उन तक पहुँचा सके आपके बच्चे की पुरानी किताबे किसी बच्चे की नई किताबे बन सकती है और पर्यावरण संरक्षण में भी मदद मिल सकती है जब कागज का कम इस्तेमाल होगा तो पेड़ो की कटाई भी कम होगी।
कृपया एक कदम हमारे साथ शिक्षा व पर्यावरण संरक्षण में बढ़ाये। जूही त्यागी ने जानलेवा गर्मी के इस मौसम में बेजुवान पशु व परिंदों को पानी का इंतजाम करने का आग्रह भी लोगों से किया है। उन्होंने कहा है कि सभी लोग छत पर एक बर्तन में परिंदों के लिए जानी जरूर रखें। यदि संभव हो सके तो उनके खाने के लिए दानार भी रख दें। क्योंकि मासूम परिंदे प्यास व भूख बताना नहीं जानते। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.