एलएलआरएम में बिना चीरफाड़ आपरेशन

एलएलआरएम में बिना चीरफाड़ आपरेशन, एलएलआरएम मेडिकल कालेज मेरठ में चिकित्सकों की मेहनत व प्राचार्य डा. आरसी गुप्ता का नेतृत्व रंग लाया। मेडिकल पीआरओ डा. वीडी पांडेय ने बताया कि मेडिकल केसुपरस्पेशलिटी ब्लाक के कार्डियोलॉजी विभाग के सहायक आचार्य डॉ शशांक पाण्डेय (एम बी बी एस, एम डी, डी एम कॉर्डियोलॉजी), कार्डियोलॉजी विभाग के सहायक आचार्य डॉ सी बी पाण्डेय(एम बी बी एस, एम डी, डी एम कॉर्डियोलॉजी) तथा कार्डियोलॉजी विभाग के सह आचार्य डॉ धीरज सोनी (एम बी बी एस, एम डी, डी एम कॉर्डियोलॉजी) ने शनिवार को मेरठ निवासी साहिब नाम के 24 वर्ष के मरीज के हृदय के पल्मोनरी वाल्व में जन्मजात सिकुड़न को बिना चिर फाड़ के बलून विधि द्वारा सफल आपरेशन कर ठीक किया गया। मेडिकल के मीडिया प्रभारी डॉ वी डी पाण्डेय ने बताया कि यह ऑपरेशन मेडिकल कालेज मेरठ पहली बार हुआ है। साहिब अब बहुत खुश हैं उनके हृदय के वाल्व अब सुचारू रूप से कार्य कर रहे हैं और वह अब बिल्कुल स्वस्थ हैं। प्रधानाचार्य डॉ आर सी गुप्ता ने कार्डियोलॉजी विभाग के सभी चिकित्सकों को सफल ऑपरेशन के लिए बधाई एवम साधु वाद दिया। डा. आरसी गुप्ता ने कहा कि चिकित्सकों व पैरा मेडिकल स्टाफ की मेहनत से एलएलआरएम मेडिकल नित नयी ऊंचाइयां छू रहा है। एलएलआरएम में बिना चीरफाड़ आपरेशन, प्रतिदिन नए-नए आयाम कायम किए जा रहे हैं। यह सभी के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकीय पेशा मानवीय सेवा का पेशा है। चिकित्सक को यह दुनिया पृथ्वी का भगवान मानती है। इस बात को किसी भी चिकित्सक को कभी भी भूलना नहीं चाहिए। यह भावना हमेशा पहले रहनी चाहिए कि कुछ भी हो मरीज को बचाना है, उसे पूरी तरह से स्वस्थ्य करना है। यह सामुहिक प्रयास व मरीज के सहयोग से ही संभव है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.