मंगल पांडे की शाहदत को किया याद, अमर शहीद मंगल पांडे को उनकी शाहदत के मौके पर पूरे शहर में भावभीनी श्रद्धांजलि दी गयी। इस मौके पर सीसीएसयू की कुलपति वाई विमला ने उन्हें महानगर बताया। उन्होंने कहा कि  1857 में क्रांति शुरू करके देश को अंग्रेजो के खिलाफ जलाने का काम किया उनके इस क्रांति से देश के लाखों युवाओं ने अंग्रेजो के खिलाफ बिगुल फूंक दिया था हमें उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए यह बात शुक्रवार को शहीद मंगल पांडे के शहीदी दिवस पर शहीद मंगल पांडे की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के पश्चात चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय की प्रति कुलपति तथा साहित्यिक सांस्कृतिक परिषद की अध्यक्ष प्रोफ़ेसर वाई विमला ने कहीं। इस दौरान साहित्यिक सांस्कृतिक परिषद के समन्वयक प्रोफेसर विग्नेश त्यागी प्रोफेसर ए वी कौर कुलदीप कुमार त्यागी डॉ रीना डॉक्टर शुचि डॉ योगेश कुमार डॉ अरुण कुमार मितेंद्र कुमार गुप्ता मनीष मिश्रा दीपक आदि मौजूद रहे।

निगम उपाध्यक्ष रंजन शर्मा प्रभाकर: ने शुक्रवार को बुढानागेट स्थित शहीद मंगल पांडे की प्रतिमा स्थल पर पहुंचकर उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। रंजन शर्मा ने उनकी प्रतिमा पर फूल मालाएं चढ़ाईं। उन्होंने कहा कि देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान देने वाले अमर शहीदों का कर्ज इस जन्म तो क्या कभी भी नहीं चुकाया जा सकता। शहीदों ने भारत माता को गुलामी की जंजीरों से मुक्त करने के लिए हंसते-हंसते अपने प्राणों का बलिदान कर दिया। हम जीवन भर उनके ऋणी रहेंगे।

जिला स्वतंत्रता सेनानी परिषद ने  शहीद मंगल पांडे की बुढ़ाना गेट स्थित मूर्ति पर प्रातः 10 बजे माल्यार्पण करते हुए श्रद्धांजलि दी गयी । उनकी पुण्यतिथि पर नमन करते हुए उन्हें याद किया । श्री अमरनाथ गुप्ता अध्यक्ष वे श्रीमती महेंद्र कुमारी कार्यवाहक अध्यक्ष ने घर से ही नमन किया । मूर्ति पर माल्यार्पण  राजीव कुमार गर्ग वरिष्ठ उपाध्यक्ष  कृष्ण पाल सिंह. महामंत्री श्री विजय गुप्ता संयुक्त मंत्री. उपस्थित रहे । इसके अलावा भी नगर में अनेक संगठनों ने अमर शहीद को याद किया। उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

@Back Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.