माॅस्क नहीं तो खैर नहीं  लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के केसों का खतरा भांप कर प्रदेश की सीएम योगी सरकार ने अलर्ट जारी कर दिया है। बगैर मा्ॅस्क के निकलने वालों के साथ सख्ती की जाएगी। कुछ लोग तो इसे चौथी लहर तक कहने लगे हैं।  इसी को ध्यान में रखते हुए सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक आदेश जारी कर दिया, इस आदेश के तहत अब एनसीआर के शहरों में रहने वालों को सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा। यदि लोग मास्क नहीं लगाएंगे तो उनके खिलाफ नियमों के तहत कार्रवाही की जाएगी। बीते 24 घंटें में गौतमबुद्धनगर में कोरोना के 65 और गाजियाबाद में 20 नए मामले सामने आए हैं। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कोरोना के फिर से बढ़ते मामलों पर चिंता जताई थी। हालांकि उन्होंने ये भी कहा था कि अभी इससे घबराने की कोई जरूरत नहीं है, सरकार पहले से सचेत है, लोगों को भी सावधानी बरतनी जरूरी है। इस बीच एनसीआर के कुछ स्कूलों में बच्चों के कोरोना संक्रमित होने के मामले सामने आए थे। इन स्कूलों को एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया था। अब स्कूलों में फिर से आनलाइन कक्षाएं चलने लगी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने तत्काल प्रभाव से एनसीआर क्षेत्र के प्रदेश के जिलों गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद तथा हापुड़ के साथ ही राजधानी लखनऊ में अब सार्वजनिक स्थल पर सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य पर दिया है। इसका एनसीआर के जिलों हापुड़, गौतमबुद्ध नगर तथा गाजियाबाद में भी प्रभाव बढ़ा है। बीते कुछ दिनों से यहां पर लगातार केस बढ़ रहे हैं। सीएम का निर्देश है कि इन सभी क्षेत्रों में स्थिति पर सूक्ष्मता से नजर रखी जाए। यदि केस बढ़ते हैं तो और भी सख्ती की जाएगी। उन्होंने ये भी आदेश दिया है कि इन जनपदों में टीकाकरण से छूटे लोगों को चिन्हित कर वैक्सीनेट किया जाए। इसके साथ ही सभी जगह पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया जाए। लक्षणयुक्त लोगों की तत्काल टेस्टिंग कराई जाए। मालूम हो कि प्रदेश में वर्तमान में कुल एक्टिव केस की संख्या 695 है। विगत 24 घंटों में 83 हजार 864 कोरोना टेस्ट में 115 नए कोरोना संक्रमित की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 29 लोग इससे उबरे भी हैं।

@Back Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.