मुठभेड़ में दो बदमाश ढेर, दो लाख का इनामी रहा अकबर बंजारा और उसका भाई सलमान असम में मुठभेड़ में ढेर हो गए हैं। दोनों भाइयों को मेरठ पुलिस ने एक सप्ताह पहले गिरफ्तार किया था। उसके बाद दोनों भाइयों को पुलिस असम ले गई थी। बता दें कि असम पुलिस ने दोनों भाइयों को सात दिन के रिमांड पर लिया हुआ था। वहीं मंगलवार सुबह असम पुलिस उनको कोर्ट में पेश करने के लिए जा रही थी, इसी दौरान दोनों भाई पुलिस से छूटकर भाग गए। इसके बाद असम पुलिस की दोनों भाइयों से मुठभेड़ हुई, जिसमें दोनों भाई मारे गए। एसपी देहात केशव कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में गो-तस्कर अकबर बंजारा और उसका भाई सलमान मारे गए हैं। दोनों के खिलाफ मेरठ में भी कई मुकदमे दर्ज हैं। गोकशी करने के बाद अकबर बंजारा गो मांस असम से दूसरे राज्यों में सप्लाई करता था।

इसके अलावा बिजनौर जनपद में अफजलगढ़ पुलिस ने उत्तराखंड के काशीपुर निवासी दो बदमाशों को गैंगस्टर एक्ट में निरुद्ध किया है। कोतवाल मनोज कुमार सिंह ने बताया कि उत्तराखंड के विजयनगर काशीपुर निवासी हैदर पुत्र सरताज व काशीपुर के मोहल्ला अली खां निवासी रहमान पुत्र जीशान पर कई मुकदमे दर्ज होने के चलते गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। आरोप है कि इन दोनों बदमाशों ने 28 दिसंबर की रात अफजलगढ़ थाने के हल्का नंबर तीन के सिपाही के साथ मारपीट करते हुए घायल कर राइफल छिन ली थी। जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया था। इसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया था। आरोपियों पर पहले मुकदमे दर्ज है। आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

बागपत  में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में 25 हजार का इनामी बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हो गया। बताया गया कि बुद्धप्रकाश पुत्र राजवीर निवासी लुहारी को पुलिस ने पकड़ा है। मुठभेड़ के दौरान बदमाश के पैर में गोली लगी है।।  एएसपी मनीष मिश्रा व सीओ बड़ौत युवराज सिंह भी मौके पर पहुंचे।, पुलिस घायल बदमाश बुद्धप्रकाश के आपराधिक इतिहास को खंगाल रही है।
Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.