नहीं मिला काम दे दी जान

नहीं मिला काम दे दी जान, काम के तलाश में दर-दर भटकते हुए जब थक गया तो अवसाद के चलते युवक ने जान दे दी। घर के अकेले चश्मो चिराग के इस कदम से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। युवक अपने बुढे माता-पिता का इकलौता सहारा था।

लालकुर्ती इलाके में सोमवार रात को एक युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। युवक पिछले तीन साल से नौकरी की तलाश कर रहा था। कोई रोजगार नहीं मिलने की वजह से युवक डिप्रेशन में था। रात में उसने कमरे में फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। युवक की मौत के बाद पूरा परिवार टूट गया। मौके पर पहुंची लालकुर्ती पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।लालकुर्ती थाना क्षेत्र के बीआई लाइन निवासी विद्यासागर (35 साल) पुत्र सीताराम अपने परिवार के साथ रहता था। नौकरी नहीं लगने के कारण युवक परेशान था। युवक की शादी भी नहीं हुई थी। वह अपने परिवार में इकलौता था। रात में युवक ने अपने कमरे में पंखे से लटककर फांसी लगा ली। युवक के पिता दूसरे कमरे में थे।  लालकुर्ती पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी ली। पुलिस के सामने ही युवक का पिता शव के पास बैठे हुए बिलखने लगा। पुलिस से पिता ने बताया कि मेरा बेटा नौकरी को लेकर परेशान था। उसी पर घर की जिम्मेदारी थी, लेकिन अब बुढ़ापा ही बिगड़ गया। युवक के पिता माली हैं। घर की आर्थिक हालत भी कमजोर है। इंस्पेक्टर लालकुर्ती अतर सिंह का कहना है कि तनाव के चलते युवक ने फांसी लगाकर जान दी है। पुलिस शव का पोस्टमार्टम करा रही है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *