आन लाइन पर उग्र दवा कारोबारी

आन लाइन पर उग्र दवा कारोबारी, मेरठ में जिला मेरठ केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन मेरठ महानगर की प्रमुख बैठक बांबे बाजार चैंबर ऑफ कॉमर्स में हुआ। बैठक में एडिशनल ड्रग कमिश्नर वीरेंद्र कुमार, ड्रग इंस्पेक्टर पवन शाक्य व प्रियंका चौधरी ने दवा कारोबारियों की परेशानियों को सुना। सभा में मेरठ और आसपास इलाके से 150 से भी अधिक दवा विक्रेता शामिल हुए। सभा में संरक्षक अशोक तिवारी के सुझाव पर यह निर्णय हुआ कि क्लीनिक पर दवाओं की बिक्री रोकने के लिए एसोसिएशन के पदाधिकारी नियमित रूप से डाक्टरों के संगठन IMA के साथ बैठक करेंगे। उनकी बैठकों में दवा विक्रेता अपनी परेशानी रखेंगे कि डॉक्टर क्लीनिक पर दवा न बेचें बल्कि बाजार से दवा लेने के लिए मरीज को कहें। संरक्षक अरुण वशिष्ठ, एसोसिएशन के महामंत्री रजनीश कौशल ने कहा कि दवा विक्रेताओं की सभी समस्याओं को प्रदेश कार्यकारिणी की आगामी बैठक में उठाया जाएगा।
सभा में विशेष रूप से किला परिक्षित गण से सलीम अख्तर, किठौर से पिंकू व अरविंद कंसल, सकौती से सुभाष बंसल, मेडिकल कालेज के सामने से योगेंद्र प्रधान, नरेश गुप्ता, सुधीर कुमार, मनोज अग्रवाल, देवेंद्र भसीन, ललित गोयल, संजय अरोड़ा, मनोज शर्मा, अरुण शर्मा, आयुष कौशल व मंच संचालन अंकुर साहरण ने किया।

मांग पत्र
1. दवा जैसी जीवन रक्षक वस्तु को आनलाईन न बेचा जाए
2. एक साल्ट से बनी हुई दवाओं के मूल्य में बहुत अधिक अंतर नहीं होना चाहिए
3. डाक्टरों के क्लीनिक पर केवल जन औषधि वाली दवाइयों को बेचने की अनुमति होनी चाहिए
4. अस्पतालों में केवल आपरेशन संबंधी व जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता ही सुनिश्चित की जानी चाहिए
5. FSSI वाली दवाओं के रेट व क्वालिटी पर खाद्य विभाग का नियंत्रण होना चाहिए।

@Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.