पांच हजार की मौत, रूसी हमले के बाद यूक्रेन के मारियापोल में मरने वालों की संख्या पांच हजार तक जा पहुंची है। इनमें दो सौ से ज्यादा मासूस भी शामिल हैं। रूसी हमले के दौरान 5,000 से अधिक नागरिक मारे गए हैं। मारियापोल के मेयर  वादिम बोइचेंको ने बुधवार को बताया कि मृतकों में 210 बच्चे थे। उन्होंने कहा कि रूसी सेना ने अस्पतालों पर बमबारी की, जिसमें एक अस्पताल भी शामिल है जहां 50 लोग जलकर मर गए। बोइचेंको ने कहा कि रूसी गोलाबारी से शहर का 90% से अधिक बुनियादी ढांचा नष्ट हो गया है। रूसी सेना ने आज़ोव बंदरगाह के रणनीतिक सागर को घेर लिया है, भोजन, पानी और ऊर्जा आपूर्ति में कटौती की है और इसे तोपखाने और हवाई हमलों के साथ नष्ट कर दिया है। शहर पर कब्जा करने से रूस को क्रीमिया प्रायद्वीप के लिए एक निरंतर भूमि गलियारे को सुरक्षित करने की अनुमति मिल जाएगी, जिसे रूस ने 2014 में यूक्रेन से जब्त कर लिया था। वहीं दूसरी ओर  यूक्रेन पर रूस का हमला हर रोज़ और उग्र होता जा रहा है. अंतरराष्ट्रीय स्तर हमले की निंदा के बावजूद युद्ध थमता नहीं दिख रहा है। बीते एक महीने से अधिक समय हो चुका है और रूस का हमला जारी है. रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के कई शहरों को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है. लाखों की संख्या में लोग यूक्रेन से पलायन कर चुके हैं और कई लोग अभी भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से अभी तक का यह सबसे भयावह युद्ध है. जिसके समाप्त होने तक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई व्यापक बदलाव हो जाएंगे। इस युद्ध की परिणिति क्या होगी और इसका अंत कैसे होगा…ये कुछ ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब फिलहाल अभी किसी के भी पास नहीं है। सवाल ये भी है कि इस युद्ध के शुरू होने से पहले क्या किसी को भी यह उम्मीद थी कि रूस इस तरह, इस तैयारी के साथ युद्ध छेड़ देगा।

@Back Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *