राजनीतिक साजिश था संघ पर प्रतिबंध, Minister Radha Mohan Singh भारतीय जनता पार्टी मेरठ महानगर के त्रिदिवसीय प्रशिक्षण वर्ग के गुरूवार को  उद्घाटन सत्र में भाजपा का इतिहास बताते हुए प्रदेश प्रभारी ने राष्ट्रवाद का संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि जनसंघ और फिर 1980 में बनी भाजपा ने देश की महान संस्कृति, राष्ट्रवाद और राष्ट्र के लिए त्याग और तपस्या करने वालों को सर्वोपरि माना। घंटाघर स्थित जैन धर्मशाला में आयोजित भाजपा का प्रशिक्षण सत्र 28, 29 और 30 अप्रैल तक चलेगा। मुख्य वक्ता और केन्द्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि भाजपा भारत को एक सुदृढ़, समृद्ध एवं शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में विश्व पटल पर स्थापित करने के लिए कृतसंकल्प है। एक समर्थ राष्ट्र बनाने के लक्ष्य के साथ भाजपा का गठन 6 अप्रैल, 1980 को नई दिल्ली के कोटला मैदान में आयोजित एक कार्यकर्ता अधिवेशन में किया गया, जिसके प्रथम अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी निर्वाचित हुए। अपनी स्थापना के साथ ही भाजपा ने अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं लोकहित के विषयों पर मुखर रहते हुए भारतीय लोकतंत्र में अपनी सशक्त भागीदारी दर्ज की।  देश में विकास आधारित राजनीति की नींव भी रखा। प्रदेश प्रभारी ने कहा कि तीन दशक बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में किसी एक पार्टी को देश की जनता ने पूर्ण बहुमत दिया है और भारी बहुमत से भाजपा नीत राजग सरकार केन्द्र में विद्यमान है। हालांकि भारतीय जनता पार्टी का गठन 6 अप्रैल, 1980 को हुआ, परन्तु इसका इतिहास भारतीय जनसंघ से जुड़ा हुआ है। अपनी स्थापना के साथ ही भाजपा ने अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं लोकहित के विषयों पर मुखर रहते हुए भारतीय लोकतंत्र में अपनी सशक्त भागीदारी दर्ज की। कांग्रेस की एकाधिकार वाली एक-दलीय लोकतान्त्रिक व्यवस्था के रूप में जानी जाने वाली भारतीय राजनीति को भारतीय जनता पार्टी ने दो ध्रुवीय बनाकर एक गठबंधन-युग के सूत्रपात में अग्रणी भूमिका निभाई। देश में विकास आधारित राजनीति की नींव भी रखा। प्रदेश प्रभारी ने कहा कि तीन दशक बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में किसी एक पार्टी को देश की जनता ने पूर्ण बहुमत दिया है और भारी बहुमत से भाजपा नीत राजग सरकार केन्द्र में विद्यमान है। हालांकि भारतीय जनता पार्टी का गठन 6 अप्रैल, 1980 को हुआ, परन्तु इसका इतिहास भारतीय जनसंघ से जुड़ा हुआ है।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *