रालोद प्रत्याशी ने की भाजपा की राहें आसान

रालोद प्रत्याशी ने की भाजपा की राहें आसान, विधान परिषद चुनाव के लिए बुलंदशहर से रालोद प्रत्याशी सुनीता शर्मा ने भाजपा के नरेन्द्र भाटी की राहें आसान कर दी हैं। नरेन्द्र भाटी का एलएलसी बनना लगभग तय हो गया है। हालांकि सुनीता शर्मा को लेकर गठबंधन के नेताओं में जबरदस्त नाराजगी है। इसके पीछे खरीद फरोख्त के आरोप लगाए जा रहे हैं। मामला कुछ भी हाे लेकिन मंगलवार को भाजपा के लिए यह मंगलकारी खबर मिल गयी है। भाजपा के लिए दूसरी बड़ी व अच्छी खबर सहरानपुर के सपा नेता नवाब गुर्जर से मिली है भाजपा में शामिल हो गए हैं। प्रदेश भाजपाध्यक्ष स्वतंत्र देव के समक्ष वह भगवा रंग में रंगे। बुलंदशहर-गौतमबुद्धनगर सीट से भारतीय जनता पार्टी के उम्‍मीदवार नरेंद्र भाटी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय हो गया है। सपा रालोद प्रत्याशी सुनीता शर्मा ने अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया है। वहीं दो निर्दलीय प्रत्याशियों के नामांकन पत्र जांच के बाद निरस्त हो गए। इसी कारण अब भाजपा प्रत्याशी नरेंद्र भाटी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय है। मंगलवार को नामांकन पत्रों की जांच प्रक्रिया चल रही है। दोपहर एक बजे सपा रालोद प्रत्याशी सुनीता शर्मा जिलाधिकारी न्यायालय पहुंची और अपना नामांकन पत्र वापस ले लिया। वहीं दो निर्दलीय प्रत्याशी जगमाल सिंह व दानवीर सिंह का नामांकन पत्र के शपथ पत्रों में कमी होने के कारण निरस्त हो गए। देश में प्रचंड बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की दूसरी बार सरकार बनने पर सपा नेता नवाब गुर्जर ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह से मुलाकात कर उन्हें बधाई दी और सपा छोड़ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। नवाब गुर्जर ने कहा कि भाजपा की कल्याणकारी नीतियों से प्रभावित होकर उन्होंने आज पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.