सड‍़कों पर फोर्स-नमाजी मस्जिद में, शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई अलविदा जुमे की नमाज़। मेरठ और आसपास के जिलों में सुरक्षा के रहे कड़े बंदोबस्त। IG range Meerut प्रवीण कुमार, DM दीपक मीणा, SSP प्रभाकर चौधरी व अन्य अफसर रहे राउंड पर। अति संवेदनशील और संवेदनशील इलाकों समेत तमाम जगहों का निरीक्षण कर अधीनस्थ पुलिसकर्मियों को दिए दिशा निर्देश। कही भी सड़क पर अदा नहीं की गई नमाज़। धर्म स्थलों के बाहर सड़कों पर इबादत को लेकर प्रदेश की योगी सरकार ने कुछ दिन पहले आदेश जारी करते हुए प्रदेश भर के सभी जिलाधिकारियों व एसएसपी को धर्म स्थलों के बाहर सड़कों पर किसी भी प्रकार के धार्मिक कृत्य की अनुमति न दिए जाने की हिदायत दी थी। एक दिन पहले जिलाधिकारी दीपक मीणा व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने खुद मोर्चा संभाल लिया था। इसका साइड इफैक्ट शुक्रवार को जुमा की नमाज के दौरान नजर आया। तमाम मस्जिदों के इंतजामियों ने नमाज के लिए आने वालों को साफ कर दिया था कि कहीं भी किसी भी दशा में मस्जिद के बाहर नमाज न अता करें। मस्जिद के भीतर ही नमाज अता की जाए। जिला प्रशासन व पुलिस के साथ तमाम मस्जिदों में इंतजाम देखने वालों के प्रयास रंग लाए। पूरे जनपद में कहीं से भी सड़क पर जुमा अलविदा की नमाज की सूचना नहीं मिली है। जिलाधिकारी दीपक मीणा व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी के अलावा तमाम एसपी सिटी विनित भटनागर व एसपी देहात केशव कुमार तथा जनपद के सभी सर्किल के सीओ व थानेदार-कोतवाल सड़कों पर मुस्तैद रहे। लोगों ने भी सड़क पर नमाज के लिए कहीं भी जिद जैसी बात नहीं की। जुमा की नमाज शांति से गुजरी तो सभी राहत की सांस ली।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.