सेवा भारती ने मनाई अंबेडकर जयंती, सेवा भारती ने डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती को श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया। आयोजन आईएमए हाल में किया गया। शुरूआत  बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के चित्रों के समक्ष दीप प्रज्वलन कर व पुष्प अर्पित कार्य की गई l कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ संजय कुमार, एसोसिएट प्रोफेसर मेरठ कॉलेज, मेरठ l मुख्य वक्ता  ईश्वर दयाल, क्षेत्र प्रमुख धर्म जागरण समन्वय पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मुख्य अतिथि विनोद भारती महानगर संघचालक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विशिष्ट अतिथि  मयंक गुप्ता जी डिप्टी डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लायंस क्लब, वरुण अग्रवाल, क्षेत्रीय संघचालक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  सूर्य प्रकाश टोंक, कैलाश चंद शर्मा प्रांत अध्यक्ष, अनिल क्षेत्रीय संगठन मंत्री सेवा भारती,समाजसेवी समेत अन्य लोग उपस्थित रहे l ईश्वर दयाल ने अंबेडकर को इस सदी के सबसे विद्वान महामानव बताया। विनोद भारती  कहा कि यह भारत देश के प्रत्येक नागरिक के लिए गौरव का विषय है l विशिष्ट अतिथि मयंक गुप्ता ने कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर अकेले ऐसे भारतीय हैं जिनका पोट्रेट लंदन संग्रहालय में कॉल मार्क के साथ लगा हैl कार्यक्रम में मेधावी छात्रों जिन्होंने अपने अपने स्कूल में हाई स्कूल तथा इंटरमीडिएट में सर्वाधिक अंक पाए हैं ऐसे विद्यार्थियों आदित्य, सलोनी, तानिया, विशाखा काजल, राधा, विपुल नेहा, अंकुश, हर्ष,विवेक,निर्मल, अमित, लवली,कशिश,सिद्धार्थ,

प्राची, को सम्मानित कियाl समाज में सामाजिक कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं राजकरण जी, अमित मूर्ति, स्वामी सोमदेव जी, साध्वी अनिता दास, सुनील कौशिक, को भी सम्मानित किया l कार्यक्रम के उपाध्यक्ष विपुल सिंघल ने बताया 51 मेधावी छात्रों तथा 12 सामाजिक कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया गया l मंच संचालन महानगर अध्यक्ष छविन्दर सैनी ने किया तथा वंदे मातरम डॉ मनोज जाटव, अमृत वचन सुंदरलाल भूरांडा, गायत्री मंत्र नरेश वैद्य, दीप स्तुति जितेंद्र चंडालिया, भारत माता प्रणाम अक्षय जी, अतिथि परिचय डॉ गौरव दत्ता जी, अतिथि तिलक सम्मान बहन शशि पटेल एवं बहन सावित्री जी ने किया lकार्यक्रम में मुकेश सैनी, दीपक सूद, पूजेश लोहरे, अशोक अग्रवाल, जनार्दन शर्मा,सूरज, वीके सूरी, नीरज शर्मा, विपिन सुधा बाल्मीकि, लक्ष्मी राघव वाल्मीकि व अन्य लोग उपस्थित रहे।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *