संभावित मंत्री सूची में अमित अग्रवाल भी संभव

संभावित मंत्री सूची में अमित अग्रवाल भी संभव, विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद संभावित मंत्री मंडल में मेरठ से अमित अग्रवाल का नाम भी चर्चा में है। अमित अग्रवाल ने कैंट सीट से शानदार जीत दर्ज करायी है। पंजाबी संगठन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष व भाजपा का पंजाबी चेहरा रमेश ढीगरा ने भी अमित अग्रवाल को मंत्री मंडल में शामिल किए जाने की मांग भाजपा आला कमान से की है।  मेरठ में भाजपा ने अपनी तीन सीटें गंवाई हो मगर योगी मंत्रिमंडल में मेरठ के तीन विधायकों को जगह मिल सकती है। मेरठ के हस्तिनापुर से जीते दिनेश खटीक, कैंट से अमित अग्रवाल और दक्षिण सीट से जीते सोमेंद्र तोमर के मंत्री बनने की संभावनाएं बढ़ी हैं। ऐसे में मेरठ की सात में से तीन सीटें ही भाजपा जीती हो मगर मंत्रीमंडल में जगह मिलने से मेरठ का कद बढ़ेगा।

दिनेश खटीक दोबारा बन सकते हैं मंत्री
मेरठ हस्तिनापुर सीट से जीते भाजपा के दिनेश खटीक के इस सरकार में पुन: मंत्री बनने की संभावनाएं भी बढ़ गई हैं। दिनेश खटीक को चुनाव से चार महीने पहले योगी सरकार में सिंचाई, बाढ़ का राज्यमंत्री बनाया गया। हस्तिनापुर दलित आरक्षित सीट है। दिनेश खटीक ने यहां से लगातार दूसरी जीत हासिल की है। हस्तिनापुर सीट पर दिनेश खटीक पहले ऐसे विधायक हैं जिसने इस मिथ को तोड़ा है कि हस्तिनापुर से कोई विधायक लगातार दो बार चुनाव नहीं जीतता। वहीं एक मिथ की जिस पार्टी ने हस्तिनापुर जीता उसी ने यूपी में सरकार बनाई इसको बरकरार रखा है। अपने विपक्षी मजबूत दावेदार सपा के योगेश वर्मा को हराकर दिनेश ने जीत दर्ज कराई है। ऐसे में मंत्रिमंडल में दोबारा दिनेश को लिया जा सकता है।

पहले भी मंत्रीमंडल में था सोमेंद्र का नाम
मेरठ दक्षिण सीट से जीते भाजपा के सोमेंद्र तोमर की यह लगातार दूसरी जीत है। 2017 के चुनाव में भी सोमेंद्र ने चुनाव जीता और इस बार भी जीत दर्ज की है। लगातार दूसरी जीत के बाद सोमेंद्र तोमर गुर्जर जाति के बड़े नेता के रूप में सामने हैं। ऐसे में सोमेंद्र की दावेदारी काफी मजबूत है। पिछली बार भी मंत्रिमंडल विस्तार के समय गुर्जर जाति के प्रतिनिधित्व के कारण सोमेंद्र तोमर का नाम सूची में आया था। अब दूसरी जीत से सोमेंद्र को इसका फायदा मिलने के आसार हैं।

वैश्य बिरादरी के लिए अमित अग्रवाल को मौका
मेरठ कैंट सीट से जीते भाजपा के अमित अग्रवाल पहले चरण के सबसे अमीर प्रत्याशी थे। वहीं अमित अग्रवाल ने एक लाख से अधिक वोटों से जीत हासिल की है। वैश्य बिरादरी में बड़ा नाम होने के कारण अमित अग्रवाल को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है। हालांकि मुजफ्फरनगर के कपिल देव अग्रवाल को पिछली सरकार में मंत्री बनाया गया था। इस बार भी कपिलदेव अग्रवाल जीते हैं। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.