एसटीएफ का फर्जी दरोगा शिकंजे में, एसटीएफ के नाम पर लोगों पर रौब गालिब करने व मोटी रकम वसूलने वाले एक फर्जी दरोगा को एसटीएफ की टीम ने गंगानगर से दबोचा है।  एसटीएफ, उत्तर प्रदेश को विगत कुछ समय से उप निरीक्षक यानि दरोगा उत्तर प्रदेश पुलिस की कूटरचित आईडी कार्ड बनाकर अपने को एसटीएफ का  दरोगा बताकर लोगो पर रोब दिखाकर उनसे मोटी रकम वसूल करने वाले के बारे में सूचनायें प्राप्त हो रही थी। इस सम्बन्ध में  कुलदीप नारायण,
पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ मेरठ द्वारा एस0टी0एफ0 की टीमों का गठन कर अभिसूचना सकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित  किया गया था। इसी क्रम में  बृजेयर कुमार सिंह अपर पुलिस अधीक्षक एसटीएफ फिल्ड यूनिट के नेतृत्व में टीम कर गठन कर एसटीएफ के इस फर्जी दरोगा को शिकंजे में दबोचने की रणनीति बनायी गयी। अभिसूचना तंत्र को सक्रिय किया गया। एसटीएफ फिल्ड यूनिट की टीम को विश्वस्त सूत्रों व मुखबिरों के माध्यम से ज्ञात हुआ कि थाना बडौत, जनपद बागपत के ग्राम सादिकपुर सिनौली का रहने वाला अमित शर्मा नामक व्यक्ति ने उत्तर प्रदेश  पुलिस के दरोगा का फर्जी व कूटरचिर्त आई 0डी0 कार्ड तैयार करा रखा हैं तथा वह अपने को एसटीएफ का दरोगा बताकर मेरठ, बागपत, मु0नगर आदि जनपदों में भोले-भाले लोगो को रोब दिखाकर उनसे मोटी रकम वसूल कर रहा हैं। 07 अप्रैल को  को उप-निरीक्षक  अरूण कुमार निगम के नेतृत्व में  हे0कां0 जयवर्धन, कान्स0 विवेक पवाॅर, कान्स0 भूपेन्द्र सिंह एंव कान्स0 विनय कुमार एस0टी0एफ0 मेरठ
टीम जनपद मेरठ में अभिसूचना संकलन कर रही थी । इसी दौरान जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि  ग्राम किला परिक्षितगढ़ की ओर से एक व्यक्ति लाल रंग की माेटर र्साइ किल से मेरठ की ओर आ रहा हैं, जो अपने को एसटीएफ का दरोगा बताकर लोगों पर रोब डालकर उनसे मोटी रकम वसूलता हैं। यदि जल्दी की जाये तो पकड़ा जा सकता हैं।  स्थानीय थाने उ0नि0 से उक्त सूचना को साझा करते हुए उ0नि0 अषेश बाबू को साथ लेकर बीएनजी तिराहे से 10 कदम गंगानगर की ओर थाना क्षेत्र भावनपुर, जनपद मेरठ से आवश्यक बल प्रयोग कर अमित शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया।

@Back Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *