तोड़फोड़ मामले में गिरफ्तारी

तोड़फोड़ मामले में गिरफ्तारी, दिल्ली के सीएम के आवास पर तोड़फोड़ व हंगामा मामले में हो रही आलोचना के बाद दिल्ली पुलिस की नींद आखिरकार टूट ही गयी। जिसके चलते गुरूवार को हंगामे के आरोप में आठ की गिरफ्तारी की गयी है। केजरीवाल आवास पर हुए हंगामे के बाद देश भर में भाजपा दूसरे दलों के निशाने पर है। सूत्रों के अनुसार, आठ लोगों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया और संख्या बढ़ सकती है क्योंकि और गिरफ्तारियां करने के लिए टीमें भेजी गई हैं। बुधवार को भाजपा की युवा शाखा के सदस्यों ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म पर केजरीवाल की टिप्पणी के खिलाफ उनके आवास के बाहर कथित रूप से संपत्ति में तोड़फोड़ की। पुलिस ने बुधवार को घटना के संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस उपायुक्त (उत्तर) सागर सिंह कलसी ने कहा था, “मामला धारा 186 (सार्वजनिक कार्यों के निर्वहन में लोक सेवक को बाधित करना), 188 (लोक सेवक द्वारा विधिवत आदेश की अवज्ञा), 353 (लोक सेवक को उसके कर्तव्य के निर्वहन से रोकने के लिए हमला या आपराधिक बल) और 332 (लोक सेवक को उसके कर्तव्य से रोकने के लिए स्वेच्छा से चोट पहुँचाना) , भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 3 और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान की रोकथाम अधिनियम की धारा 3 के तहत दर्ज किया गया था। “ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया था कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पंजाब चुनावों में अपनी हार के बाद केजरीवाल को “मारना” चाहती है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भगवा पार्टी की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के कार्यकर्ताओं ने एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री आवास पर सीसीटीवी कैमरों और सुरक्षा बाधाओं को क्षतिग्रस्त कर दिया।

केजवरीवाल से मिलेंगी जूही त्यागी: आम आदमी पार्टी की महिला विंग की जिलाध्यक्ष जूही त्यागी केजरीवाल के आवास पर हुए हंगामे व तोड़फोड़ की घटना को लेकर जबरदस्त गुस्से में हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि यह सब पुलिस की शह पर हुआ है। आलोचना के बाद ही पुलिस को गिरफ्तारी का ख्याल आया है। उन्होंने बताया कि वह सीएम केजरीवाल से शीघ्र मिलेंगी। यह पूरी घटना शर्मनाक है। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.