यूक्रेन जंग में यूएस जासूस सक्रिय, US spies helped Ukraine: RUSSIA को UKRAINE के खिलाफ युद्ध छेड़े 2 महीने से ज्यादा हो चुके हैं. दुनिया को लगा था कि यूक्रेन कुछ दिन में ही रशिया के सामने घुटने टेक देगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. रशिया अभी-भी जीत से दूर है. अमेरिका समेत यूरोपियन देश यूक्रेन की हथियार भेज कर मदद कर रहे हैं. इसी बीच एक रिपोर्ट में नया खुलासा हुआ है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका के जासूस भी यूक्रेन के लिए काम कर रहे हैं. अमेरिका के जासूसों से मिल रही जानकारी से ही यूक्रेन की सेना रशिया को जबरदस्त नुकसान पहुंचाने में सफल हो पा रही है. एक पूर्व और तत्कालीन अमेरिकी सेना के अधिकारी ने बताया कि अमेरिका समय-समय पर रीयल टाइम इंटेलिजेंस यूक्रेनी सेना को देता रहा है, जब से रूस ने यूक्रेन पर हमला किया है. एक इंडिपेंडेंट रूसी आउटलेट ने इस बात का खुलासा किया है. इसमें कहा गया है कि लगभग 317 जूनियर लेफ्टिनेंट रैंक और उससे ऊंचे पद के अफसरों की मौत यूक्रेन पर रशिया के हमलों के दौरान हो चुकी है. तीसरी श्रेणी में सबसे बड़े अधिकारियों और ग्रेड वाले अफसरों की मौत हो चुकी है,  जिनमें 8 जनरल और Russia Black Sea fleet एक डिप्टी कमांडर भी शामिल है.  पिछले हफ्ते रूसी सेना को सबसे बड़ा झटका तब लगा जब मॉस्को की तरफ से बताया गया कि उनके अफसर Col. Mikhail Nagamov की 13 अप्रैल को मौत हो चुकी है. Col. Mikhail Nagamov की मौत की पुष्टि Alexander Chirva की मौत के कुछ घंटे बाद हुई जो Caesar Kunikov tank landing ship के कप्तान थे और इस जहाज़ को यूक्रेनी सेना ने हवाई हमले में उड़ा दिया था. अधिकारियों ने  बताया कि अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियों ने यूक्रेन के सबसे सफल अभियानों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और पुतिन के सुनियोजित हमलों की जानकारी समय-समय पर यूक्रेन सरकार को मुहैय्या करवाई है. एक पूर्व अधिकारी ने खुलासा किया कि छनकर आई जानकारियों में से एक महत्वपूर्ण जानकारी जो यूक्रेनी सेना को दी जाती थी उसमें commercial satellite image काफी महत्वपूर्ण जानकारी मानी जाती है।

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.