यूक्रेन ने झुका नाटो को ना

यूक्रेन झुका नाटो को ना, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की के तेवर नरम होते नजर आ रहे हैं। अमेरिकी मीडिया को दिए गए साक्षात्कार में इसके संकेत मिले हैं। रूस के आक्रामक रवैये को देखते हुए जेलेंस्की ने कहा कि, उनका देश नाटो में शामिल होने पर जोर नहीं देगा। उन्होंने यह भी कहा, नाटो उन्हें अब नहीं चाहता। रूस लगातार यूक्रेन को नाटो से दूरी बनाने के लिए कहता रहा है। इस दौरान उन्होंने दोनेस्त्क और लुहांस्क समझौते पर भी विचार के संकेत दिए हैं।

रूस-यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग का आज 14वां दिन है। 14 दिन बाद भी रूस के कब्जे से कीव काफी दूर है। इस बीच रूस पर प्रतिबंध बढ़ते ही जा रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने साफ कर दिया है कि अमेरिका रूस से कच्चे तेल व गैस को आयात नहीं करेगा। इस बीच पेप्सिको ने भी रूस में उत्पादन और ब्रिक्री को बंद कर दिया है।

यूक्रेन संकट के लिए नाटो जिम्मेदार- वेनेजुएला राष्ट्रपति

यूक्रेन संकट पर वेनेजुएला के राष्ट्रपति ने नाटो को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि पश्चिम देशों ने नाटो का विस्तार कर रूस को उकसाया है। ये सभी देश दशकों तक रूस को धमकियां देते रहे। इसलिए वर्तमान संकट के लिए यही देश जिम्मेदार हैं।

यूक्रेन के सूमी में 22 की मौत

यूक्रेन के सूमी में देर रात रूस की ओर से की गई एयरस्ट्राइक में कम से कम 22 लोगों की मौत की खबर है। जानकारी के मुताबिक, इनमें तीन बच्चे भी शामिल हैं। यूक्रेन ने झुका, नाटो को ना, यूक्रेन की राजधानी कीव व उसके आसपास के इलाकों में एयर स्ट्राइक की चेतावनी जारी की गई है। सभी से अपील की गई है कि वे जितनी जल्दी हो सके बंकरों में चले जाएं।

तीन बच्चों समेत सात की मौत

यूक्रेन के जाइतोमिर व खारकीव में देर रात हुई रूसी एयरस्ट्राइक में तीन बच्चों समेत सात लोगों की मौत हो गई है। यूक्रेन की ओर से इसकी पुष्टि की गई है। रूसी हमलों में यूक्रेन की चेर्नोबिल न्यूक्लियर साइट को नुकसान पहुंचा है। अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के प्रमुख राफेल ग्रॉसी का कहना है कि, चेर्नोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र से रिमोट डेटा ट्रांसमिशन खो गया है। अब यह संयंत्र अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी को डेटा ट्रांसफर नहीं कर पा रहा है।

यूक्रेन की प्रथम महिला ने वैश्विक मीडिया को लिखा पत्र

यूक्रेन की प्रथम महिला व राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की की पत्नी ओलेना जेलेंस्का ने वैश्विक मीडिया को खुला पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि, हम उस ताकत को रोकने का प्रयास कर रहे हैं, जो कल आपके शहर में घुस सकता है। उन्होंने लिखा रूसी टैंक यूक्रेनी सीमा पार कर गए, विमानों ने हमारे हवाई क्षेत्र में प्रवेश किया, मिसाइल लांचरों ने हमारे शहरों को घेर लिया। यूक्रेनी नागरिकों की सामूहिक हत्या की जा रही है, लेकिन यूक्रेन अपनी सीमाओं की रक्षा करेगा। अपनी पहचान की रक्षा करेगा। ये कभी नहीं झुकेगा। @Back To Home
Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.