योगी रिटर्न से बदलेगी पूर्वांचल की सूरत

योगी रिटर्न से बदलेगी पूर्वांचल की सूरत, सीएम योगी की शानदार वापसी से अब पूर्वांचल की सूरत बदलने जा रही है। ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर अब इस इलाके में भी गगनचुंबी इमारते नजर आएंगी। विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 में भाजपा को मिली भारी जीत के बाद प्रदेश के बाहर के उद्यमी भी खासे उत्साहित हैं। योगी आदित्यनाथ के दोबारा मुख्यमंत्री बनने से उनके मन में सुरक्षा को लेकर विश्वास जगा है और वे गोरखपुर में निवेश के लिए मन बना रहे हैं। दूसरे प्रदेश से उद्यमियों के आने के बाद गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) में नए निवेश के द्वार खुलेंगे और रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। त्तराखंड में औद्योगिक इकाई संचालित करने वाले सीए आशुतोष पांडेय की नजर विधानसभा चुनाव के परिणाम पर थी। उन्होंने गीडा में एक जमीन आवंटित करायी है। उन्हें डर था कि यदि नई सरकार आयी तो सुधार को लेकर किए जा रहे प्रयास रुक सकते हैं, लेकिन योगी सरकार आने से सभी तरह की आशंकाएं समाप्त हो गई हैं। वह बताते हैं कि उन्हें गीडा में पारदर्शी तरीके से जमीन मिली है। यहां के सुरक्षित माहौल एवं उद्योगों को बढ़ावा देने के प्रयासों की चर्चा सुनकर उत्तराखंड के कई और उद्यमी यहां आकर निवेश की इच्छा जता रहे हैं। योगी रिटर्न से बदलेगी पूर्वांचल की सूरत, वह जल्द ही गोरखपुर आने वाले हैं। मुंबई के रवींद्र अग्रवाल गोरखपुर में क्वार्टज ओपलवेयर प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना करने वाले हैं। दोबारा प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने से उन्होंने प्रयास तेज कर दिए हैं। उन्हें भी जमीन आवंटित हो चुकी है। योगी आदित्यनाथ को प्रचंड जीत की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि उनके जैसे और भी उद्यमी हैं जो चुनाव परिणाम पर नजरें गड़ाए थे। गोरखपुर में उद्योगों को मिल रहे प्रोत्साहन से वे काफी प्रभावित हैं। निश्चित रूप से यहां बाहरी निवेश बढ़ेगा। कई उद्यमी यहां आकर निवेश करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी ओर से स्थापित फैक्ट्री से करीब 700 लोगों को रोजगार मिलेगा, जिसमें दो तिहाई महिलाएं होंगी। उनके बच्चों के लिए भी व्यवस्था रहेगी। @Back To Home

Share

By editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published.